शार्ली आब्दो हमले में चार पाकिस्तानी गिरफ्तार, 21 साल से कम उम्र के हैं सभी आरोपी

चारों युवक हमले के मुख्य अभियुक्त जहीर हसन मुहम्मद के रिश्तेदार और दोस्त
हमले के मुख्य अभियुक्त जहीर हसन मुहम्मद ने जांचकर्ताओं को बताया था कि शार्ली आब्दो कार्यालय पर पूर्व में हुए हमले के बारे में उसके पास पाकिस्तान से वीडियो आया था। जिसे देखने के बाद दूसरी बार कार्टून प्रकाशित करने पर उसने हमले की योजना बनाई थी।

पेरिस, एएनआइ। फ्रांस में व्यंग्य पत्रिका शार्ली आब्दो के पुराने कार्यालय के बाहर हुए हमले में चार पाकिस्तानियों को गिरफ्तार किया गया है। यह हमला 25 सितंबर को हुआ था, जिसमें दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे।पकड़े गए चारों युवक हमले के मुख्य अभियुक्त जहीर हसन मुहम्मद के रिश्तेदार और दोस्त हैं। इनकी उम्र 17 से 21 साल से बीच है। हसन को हमले के तुरंत बाद गिरफ्तार कर लिया गया था। उसने जांचकर्ताओं को बताया था कि शार्ली आब्दो कार्यालय पर पूर्व में हुए हमले के बारे में उसके पास पाकिस्तान से वीडियो आया था। जिसे देखने के बाद दूसरी बार कार्टून प्रकाशित करने पर उसने हमले की योजना बनाई थी।

जांच में उसने रोते हुए बताया कि वह तहरीक-ए-लबाइक पार्टी के चरमपंथी नेता खादिम हुसैन रिजवी के नफरत वाले भाषण से प्रभावित हो गया था। उसके बाद ही वह 2018 में अवैध कागजातों के साथ फ्रांस आ गया था। रिजवी ने ही फ्रांस के खिलाफ आंदोलन में परमाणु हमले की धमकी दी थी। उसकी नवंबर में कोरोना होने के बाद मौत हो गई है।