बीते 24 घंटों में देश में आए 26 हजार से ज्यादा कोरोना मामले, केरल-महाराष्ट्र में 40% एक्टिव केस

 

केरल, महाराष्ट्र में देश के 40 फीसद सक्रिय मामले। (फोटो: एपी)

देश में कोरोना के हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने बताया कि देश में कोरोना के 40 फीसद सक्रिय मामले केरल और महाराष्ट्र में हैं जबकि 33 राज्यों में 20 हजार से कम केस बचे हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ।  देश में कोरोना के हालात में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 26 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में बीते 24 घंटों में कोरोना के 26,624 मामले सामने आए हैं। इस दौरान देश में 341 लोगों की कोरोना से मौत हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों पर नजर डालें तो देश में अब तक कोरोना के 1 करोड़ 31 हजार 223 मामले सामने आ चुके हैं। इसमें से 95 लाख 80 हजार 344 मरीज अब तक ठीक हो चुके हैं। भारत में कोरोना के एक्टिव केस फिलहाल 3 लाख 5 हजार 344 है। भारत में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 1 लाख 45 हजार 477 है।

केरल-महाराष्ट्र में 40% एक्टिव केस

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत में बचे 40 फीसद सक्रिय मामले केरल और महाराष्ट्र में हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MOHFW) ने रविवार को कहा कि देश में कुल सक्रिय मामलों में से 40 फीसद केरल और महाराष्ट्र में हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने ट्वीट में लिखा- देश में 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 20 हजार से कम सक्रिय मामले हैं। केरल और महाराष्ट्र में कुल कोरोना सक्रिय मामलों का 40 प्रतिशत है।भारत में कोरोना वायरस के सक्रिय मामलों की बात करें तो पश्चिम बंगाल में 19,065, उत्तर प्रदेश में 17,955 और छत्तीसगढ़ में 17,488 सक्रिय कोरोना वायरस मामले हैं। इस बीच देश में कोरोना के मामले एक करोड़ के पार चले गए हैं।

देश में 16 करोड़ से ज्यादा कोरोना टेस्ट

देश में कोरोना की जांच का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। देश में 16 करोड़ से ज्यादा सैंपलों की कोरोना जांच की जा चुकी है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research, ICMR) की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में शनिवार(19 दिसंबर) तक 16,11,98,195 सैंपलों की जांच हो चुकी है, जिनमें से 11,07,681 टेस्ट कल किए गए हैं।