वाहन चोर गिरोह का कुख्यात बदमाश गिरफ्तार, तीन महीने में चुराई थी 40 बाइक

 चोरी की मोटरसाइकिल पांच हजार में बेचता था स्क्रैप डीलर को


उत्तरी जिला के डीसीपी एंटो अल्फोंस ने बताया कि कमला नगर निवासी अनिल कुमार ने सात दिसंबर को रूप नगर थाने में मोटरसाइकिल चोरी की शिकायत की थी। थाने में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच स्पेशल स्टाफ को सौप दी गई थी।

नई दिल्ली,  संवाददाता। उत्तरी जिला पुलिस की स्पेशल स्टाफ ने वाहन चोर गिरोह के कुख्यात बदमाश को गिरफ्तार किया है। आरोपित की पहचान मेरठ लिसारी गेट निवासी रिज़वान के रूप में हुई है। गत अक्टूबर महीने में ही वह जेल से छुटा था। जेल से बाहर आते ही उसने तीन महीने में 40 मोटरसाइकिल चुराई थी। वह चोरी की मोटरसाइकिल पांच हजार रुपये में मेरठ के एक स्क्रैप डीलर को बेच देता था। आरोपित की निशानदेही पर पुलिस ने 11 दोपहिया वाहन बरामद किए हैं। वहीं, वाहन चोरी के इतने ही मामले सुलझा लिए हैं। पुलिस अब गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश में जुट गई है।

उत्तरी जिला के डीसीपी एंटो अल्फोंस ने बताया कि कमला नगर निवासी अनिल कुमार ने सात दिसंबर को रूप नगर थाने में मोटरसाइकिल चोरी की शिकायत की थी। थाने में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच स्पेशल स्टाफ को सौप दी गई थी। पुलिस की टीम वाहन चोरी करने वाले बदमाशों पर लगातार नजर रख रही थी। इसी दौरान इंस्पेक्टर सुनील कुमार की टीम को वाहन चोर रिजवान के इलाके में सक्रिय होने की सूचना मिली। वहीं, पता चला कि वह चोरी की मोटरसाकिल पर 10 दिसंबर को बाड़ा हिंदू राव इलाके से गुजरने वाला है।

इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस ने रिजवान को धर दबोचा। छानबीन में पता चला कि उसके द्वारा प्रयुक्त मोटरसाइकिल रूप नगर से चुराई गई है। उसने उक्त मोटरसाइकिल पर फर्जी नंबर प्लेट लगा रखी थी। बाद में उसकी निशानदेही पर पुलिस ने चोरी के 10 और दोपहिया वाहन बरामद किए। पूछताछ के दौरान आरोपित रिजवान ने बताया कि वह गत दो वर्ष से दो पहिया वाहनों की चोरी कर रहा था। वह वाहन चोरी कर उसे मेरठ में एक स्क्रैप डीलर को बेच देता था। गत तीन महीन में ही उसने 40 से अधिक दो पहिया वाहन चुराए थे। आरोपित के खिलाफ रूप नगर, सदर बाजार, मुखर्जी नगर, मोती नगर, प्रेम नगर और अमर कॉलोनी में वाहन चोरी के मामले दर्ज हैं।