सीएम नीतीश की घोषणा पर अमल, ग्रैजुएशन पास छात्राओं को जल्‍द मिलेंगे 50-50 हजार रुपये

 बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तस्‍वीर ।


शिक्षा विभाग के प्रस्‍ताव को वित्त विभाग से अनुमति के बाद कैबिनेट की मंजूरी ली जाएगी ! इस बार छात्राओं में पिछले साल की अपेक्षा सौ करोड़ रुपये अधिक बांटे जाएंगे। अभी तक 25-25 हजार रुपये मिलते थे। पिछले साल 84344 छात्राओं को प्रोत्साहन राशि मिली थी ।

पटना, राज्य ब्यूरो । विधानसभा चुनाव 2020  के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  ने घोषणा की थी कि यदि फिर से उनकी सरकार बनी तो स्नातक कक्षाओं में उत्तीर्ण होने वाली छात्राओं को 50-50 हजार रुपये प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। उस घोषणा पर अब अमल  करते हुए जल्‍द ही छात्राओं को ये प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। बिहार सरकार के शिक्षा विभाग   ने मुख्यमंत्री स्नातक बालिका प्रोत्साहन योजना के तहत लाभुकों ) के बैंक खाते   में प्रोत्साहन राशि भेजने का प्रस्ताव (proposat) तैयार किया है। प्रस्ताव को वित्त विभाग  के पास स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा। उसके बाद कैबिनेट से मंजूरी ली जाएगी।

1.50 लाख लड़कियों को मिलेगा लाभ

उच्च शिक्षा निदेशालय  के एक अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री स्नातक बालिका प्रोत्साहन योजना में राशि की बढ़ोतरी होने पर करीब 1.50 लाख स्नातक उत्तीर्ण लड़कियों को लाभ मिलेगा। मौजूदा व्यवस्था में स्नातक उत्तीर्ण छात्राओं को 25-25 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि देने का प्रावधान है। पिछले साल 1.4 लाख लाभुकों के आवेदन आए थे, जिनमें से 84 हजार तीन सौ 44 छात्राओं को प्रोत्साहन राशि भेजी जा चुकी है। शेष लाभुकों के आवेदन (application) में खामियों के चलते उन्हें विश्वविद्यालयों को वापस कर दिया गया है। संशोधित आवेदनों के प्राप्त होने के बाद लाभुकों के बैंक खाते में राशि भेजी जाएगी।

तीन सौ करोड़ रुपये का प्रावधान 

राज्य सरकार से मान्यता एवं संबद्धता प्राप्त महाविद्यालयों से स्नातक पास छात्राओं को प्रोत्साहन राशि दी जाती है। वर्ष 2019-20 में इस योजना के लिए शिक्षा विभाग ने दो सौ करोड़ रुपये का प्रावधान किया था। इस वित्तीय वर्ष (2020-21) में तीन सौ करोड़ का प्रावधान किया गया है।  इस तरह इस बार सौ करोड़ रुपये अधिक राशि बांटी जाएगी।