पाकिस्तान में 50 पायलटों का लाइसेंस किया गया कैंसल, जानें पूरा मामला

 पाकिस्तान में 50 पायलटों का लाइसेंस किया गया कैंसल, जानें पूरा मामला


पाकिस्तान में 50 पायलटों का लाइसेंस कैंसल कर दिया गया है। दरअसल इन सभी लोगों ने फर्जी लाइसेंस बनवाए हुए थे। मामले सामने आने के बाद नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने शीर्ष अदालत को यह जानकारी दे दी है।

इस्लामाबाद, पीटीआइ। पाकिस्तान सरकार ने 50 पायलटों का लाइसेंस कैंसल कर दिया है। दरअसल, इन सभी पायलटों पर फर्जी जानकारी से लाइसेंस बनवाने का आरोप है। अब इस मामले पर अधिकारी जांच करेंगे कि कैसे उन्हें नकली लाइसेंस प्राप्त हुआ? मामला सामने आने के बाद नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने शीर्ष अदालत को यह जानकारी दे दी है।

बता दें कि कराची में इसी साल 22 मई को पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस के विमान की दर्दनाक दुर्घटना के मद्देनजर फर्जी लाइसेंस का मामला सामने आया था। इस हादसे में कम से कम 97 लोगों की मौत हो गई थी। उस दौरान उड्डयन मंत्री गुलाम सरवर खान ने मीडिया को बताया था कि वहां पर 860 सक्रिय पायलटों में से 260 पायलट थे, जिनके पास फर्जी लाइसेंस थे। पाकिस्तान के बाहर काम करने वाले अन्य पायलटों के बारे में किसी भी नकारात्मक धारणा से बचने के लिए उनके नाम सार्वजनिक नहीं किए गए थे।

डॉन अखबार की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मामला इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में जाने के बाद अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन की शिकायत को ध्यान में रखते हुए सभी 60 वाणिज्यिक पायलटों के लाइसेंसों की समीक्षा की गई थी इसके बाद गहन जांच के बाद 50 पायलटों का लाइसेंस कैंसल करने का फैसला लिया गया है। अटॉर्नी जनरल तारिक महमूद खोखर द्वारा दायर एक रिपोर्ट में सामने आया है यह पायलट नेशनल फ्लैग पीआईए के साथ-साथ अन्य पाकिस्तानी निजी और विदेशी एयरलाइनों के लिए काम कर रहे थे।