कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन से खौफ, कई देशों ने ब्रिटेन पर लगाया ट्रैवल बैन, भारत भी हुआ सचेत

 

ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन को देखते हुए कई देशों ने उड़ानें निलंबित कर दीं है।
ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया प्रकार सामने आने से हड़कंप मच गया है। इसको देखते हुए कई देशों ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है। इसके अलावा कई और देश भी प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहे हैं।

लंदन, रायटर। इंग्लैंड में कोरोना वायरस (Corona Virus) के नए प्रकार के सामने आने से दुनिया भर में एक बार फिर तनाव बढ़ गया है। ब्रिटेन में कोरोना के नए प्रकार (New Strain) ने वायरस के खिलाफ लड़ाई में एक नया मोड़ ला दिया है। जिसकी वजह से ब्रिटेन (Britain Lockdown) में एक बार फिर कोरोना के मरीजों की संख्या में तेजी आ गई है। इसको देखते हुए दुनिया के कई देशों ने ब्रिटेन से आने और जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। यहीं नहीं ब्रिटेन के यूरोपीय पड़ोसियों ने भी खतरे को देखते हुए यूके के यात्रियों के लिए अपने दरवाजों को बंद करना शुरू कर दिया है। वहीं, भारत भी इसको लेकर पूरी तरह से अलर्ट है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सरकार से ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों को बैन करने का सो आग्रह किया है।

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने शनिवार को घोषणा करते हुए कहा कि नए स्ट्रेन से संक्रमण के मामले अचानक बढ़ गए हैं। उनकी सरकार ने लंदन और आस-पास के इलाकों में कोरोना प्रतिबंधों को और कड़ा कर दिया है। इसके साथ ही क्रिसमस पर प्रस्तावित पांच दिन की विशेष छूट का फैसला वापस ले लिया गया है। उन्होंने कहा कि अभी यह नहीं कहा जा सकता कि इस प्रकार पर वैक्सीन कितनी कारगर होगी लेकिन हमें इसे मिलकर नियंत्रित करना होगा। 

फ्रांस ने लगाया 48 घंटे का प्रतिबंध

फ्रांस ने भी यूनाइटेड किंगडम से आने वाले सभी लोगों पर रविवार रात से 48 घंटे के लिए रोक लगा दी है। इसमें सड़क, वायु, समुद्र या रेल से यात्रा करने वाले लोग शामिल हैं। वहीं, जर्मनी, इटली और नीदरलैंड ने ब्रिटेन से उड़ानों को निलंबित करने का आदेश दिया है, जबकि आयरलैंड ने कहा है कि वह अपने पड़ोसी देश से उड़ानों पर जल्द प्रतिबंध लगाएगा। बेल्जियम ने कहा कि वह ब्रिटेन से आने वाली लोकप्रिय यूरोस्टार सेवा सहित उड़ानों और ट्रेनों को बंद करेगा।

इटली और जर्मनी ने भी लगाया बैन

जर्मन सरकार ने यूनाइटेड किंगडम से सभी उड़ानों को आधी रात से निलंबित करने का फैसला किया है। स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने कहा कि वायरस का नया स्ट्रेन जर्मनी में अभी तक पहचाना नहीं गया है, लेकिन निश्चित रूप से हम ब्रिटेन से आ रही रिपोर्टों को बहुत गंभीरता से ले रहे हैं। उधर, इटली के स्वास्थ्य मंत्री रॉबर्टो स्पेरान्ज़ा ने कहा है कि लंदन में खोजा गया कोरोना वायरस का नया प्रकार चिंता का विषय है। इटली ने भी ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों प्र प्रतिबंध लगा दिया है।

बैन लगाने पर कई देश कर रहे विचार

नीदरलैंड सरकार ने रविवार से यूनाइटेड किंगडम से यात्रियों को ले जाने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया और यह प्रतिबंध 1 जनवरी तक लागू रहेगा। ऑस्ट्रिया भी ब्रिटेन से उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने की योजना बना रहा है। स्वीडन ने कहा कि वह यूनाइटेड किंगडम से प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय पर काम कर रहा है। रोमानिया, लिथुआनिया, लातविया, एस्टोनिया, बुल्गारिया और चेक गणराज्य ने भी यूनाइटेड किंगडम से उड़ान पर रोक की घोषणा की है।