दिल्ली समेत उत्तर भारत में भीषण शीतलहर से मिलेगी राहत, जानें अन्य राज्यों के मौसम का हाल
उत्तर भारत में आज ठंड से थोड़ी राहत मिली है फिर कुछ इलाकों में धुंध छाया रहा। फाइल फोटो
हिमाचल प्रदेश के आसपास के क्षेत्रों में विक्षोभ बना हुआ है। जिसके कुछ जगहों पर बारिश और बर्फबारी हो सकती है। इस कारण उत्तर भारत में सर्दी का प्रकोप और बढ़ सकता है। वहीं तमिलनाडु और केरल में बारिश हो सकती है।

नई दिल्ली, एजेंसी। जम्मू कश्मीर और उत्तरी हिमाचल प्रदेश के आसपास के क्षेत्रों में विक्षोभ बना हुआ है। जिसके कुछ जगहों पर बारिश और बर्फबारी हो सकती है। इस कारण उत्तर भारत में सर्दी का प्रकोप और बढ़ सकता है। वहीं, तमिलनाडु और केरल में बारिश हो सकती है। स्काइमेट वेदर के मुताबिक, अगले 24 घंटों में पूर्वी मध्य प्रदेश, बिहार, बंगाल और ओडिशा के कुछ हिस्सों पर शीतलहर जारी रहेगा। वहीं बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में घना कोहरा छाए रहने की भी संभावना है। उत्तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड पर रही है।

मौसम के बिगड़े मिजाज को लेकर बिहार में अलर्ट जारी

पिछले 3 दिन दिन से शीतलहर से बिहार में हालत खराब है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले 48 घंटे तक यही स्थिति बनी रहेगी। मौसम विज्ञान केंद्र पटना ने अगले 24 घंटे तक सूबे के सभी शहरों में कोल्ड डे या फिर कोल्ड वेव का अलर्ट जारी किया है। मगर इसके बाद के 24 घंटे में भी हालात में ज्यादा सुधार की गुंजाइश नहीं है। मतलब कुल मिलाकर अगले दो दिनों तक शीतलहर का प्रकोप राज्य के अधिकतर जिलों में दिखेगा। कहीं दिन का तापमान सामान्य से काफी नीचे रहेगा तो कहीं रात का तापमान सामान्य से काफी नीचे दर्ज किया जा सकता है। सोमवार की सुबह से ही कोहरे का कहर राज्य के सभी जिलों में दिख रहा है। मौसम की मौजूदा स्थिति को देखते हुए मंगलवार के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है जबकि बुधवार के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।

भीषण शीतलहर से मिलेगी राहत

स्काईमेट वेदर के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ और सर्कुलेशन के कारण हवाओं का रुख बदल गया है। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, राजस्थान के कुछ इलाकों में हवाएं अब मंद पड़ने लगी है। जिससे तापमान में गिरावट अब बंद हो गई है और कई शहरों में भीषण शीतलहर के साथ-साथ पाले से कुछ समय के लिए राहत मिलेगी।

महाराष्ट्र में बढ़ेगा तापमान

महाराष्ट्र में 24 दिसंबर से एक बार फिर तापमान में वृद्धि होने की संभावना है। स्काइमेट वेदर के मुताबिक, 23 या 24 दिसंबर से हवाओं की दिशा में परिवर्तन होगा तथा पूर्वी या दक्षिण पूर्वी दिशा से नम हवाएं चलेंगी जिससे दिन और रात के तापमान में वृद्धि देखने को मिलेगी। मुंबई, पुणे, नाशिक, नागपुर, वर्धा, अकोला, वासिम समेत लगभग सभी शहरों में इस सप्ताह मौसम मुख्यतः साफ और शुष्क रहने का अनुमान है।

गिर सकता है पारा

स्काइमेट वेदर के अनुसार, इस सप्ताह गुजरात में मौसम के पूरी तरह से शुष्क रहने की संभावना है। उत्तर तथा उत्तर-पूर्वी दिशा से चलने वाली शुष्क और ठंडी हवाओं के प्रभाव से गुजरात के अधिकांश भागों में पारा और गिर सकता है। बनासकांठा, साबरकांठा, मेहसाना, पाटन, दिसा, इदार तथा अहमदाबाद समेत कई और जिलों में सुबह और रात के समय ठंड और बढ़ सकती है।

अमृतसर रहा सबसे ज्यादा ठंडा

उत्तर भारत के पहाड़ियों से आने वाली बर्फीली हवाएं अब मंद पड़ने लगी हैं। जिसके कारण मैदानी इलाकों के तापमान में गिरावट का दौर थोड़ा कम हुआ है। स्काइमेट के अनुसार, आज 22 दिसंबर को सबसे ठंडा शहर रहा पंजाब का अमृतसर, जहां न्यूनतम तापमान 2.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

तमिलनाडु और केरल में हो सकती है बारिश