ऋषिकेश घूमने आए पांच दोस्तों की कार पेड़ से टकराई, तीन की मौत; दो की ऐसे बची जान

 हरिद्वार से ऋषिकेश आ रही एक कार श्यामपुर बाईपास मार्ग मनसा देवी के समीप एक पेड़ से टकरा गई।

 हरिद्वार से कार में ऋषिकेश घूमने आए पांच दोस्त जब हरिद्वार वापस लौट रहे थे तो श्यामपुर बाइपास मार्ग पर मनसा देवी के समीप एक पेड़ से उनकी कार टकरा गई। इस दुर्घटना में तीन व्यक्तियों की मौत हो गई है।

संवाददाता, ऋषिकेश। हरिद्वार से कार में ऋषिकेश घूमने आए पांच दोस्त जब हरिद्वार वापस लौट रहे थे तो श्यामपुर बाइपास मार्ग पर मनसा देवी के समीप एक पेड़ से उनकी कार टकरा गई। इस दुर्घटना में तीन व्यक्तियों की मौत हो गई है। कार में फ्रंट सीट पर सेफ्टी बैलून खुलने के कारण चालक और उसके बगल में बैठे युवक को मामूली चोट आई। कार में कुल पांच लोग सवार थे।

कोतवाली पुलिस के मुताबिक, मंगलवार की अलसुबह पुलिस कंट्रोल ऋषिकेश ने मनसा देवी के पास एक्सीडेंट की सूचना दी। इस पर पुलिस मौके पर पहुंची तो मौके पर आसपास के लोग खड़े थे। उनके द्वारा बताया गया कि कार एक खंभे से टकराकर उसके बाद एक पेड़ से टकरा गई। गाड़ी काफी तेज स्पीड में थी। कार (आइ 20) के अंदर पांच लोग थे। जिनमें से तीन की हालत बहुत गंभीर थी। आगे बैठे दो लोगों को हल्की चोटें आई थी। जिनको 108 की मदद से ऋषिकेश सरकारी हॉस्पिटल भिजवाया गया। कार चालक द्वारा साइड में सड़क किनारे खड़ी एक्टिवा को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया तथा बगल में लगी झोपड़ी के मेज व मिट्टी के घड़े आदि को नुकसान हुआ है।कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक रितेश शाह ने बताया कि इस दुर्घटना में कार की पिछली सीट पर बैठे अमित (25 वर्ष) निवासी गणेशपुर रुड़की जनपद हरिद्वार, अवधेश पटेल (30 वर्ष) निवासी सीबीआरआई रुड़की जनपद हरिद्वार की मौत हो गई, जबकि एम्स ऋषिकेश में भर्ती सोनू (24 वर्ष) निवासी मोहनपुरा रुड़की जनपद हरिद्वार ने भी बाद में दम तोड़ दिया।

सेफ्टी बैलून से बची दो की जान

दुर्घटना में कार चला रहे रमेश सिंह (32 वर्ष) पुत्र तेज नारायण निवासी 429 गली नंबर 10 रामनगर रुड़की हरिद्वार और प्रशांत कुमार (28 वर्ष) पुत्र दया राम ठाकुर निवासी इ 18 सीबीआरआई कॉलोनी रुड़की जनपद हरिद्वार को मामूली चोट आई है। आगे बैठे दोनों लोग सेफ्टी बैलून खुलने के कारण बच गए। पुलिस ने मृतकों के स्वजनों को सूचित कर दिया है। पुलिस के मुताबिक, घायल रमेश अमूल कंपनी रुड़की में काम करता है, जबकि अन्य चार युवक सीबीआरआइ रुड़की में प्रोजेक्ट असिस्टेंट के पद पर कार्यरत हैं।

शादी की खुशी में सह भोज के लिए आए थे हरिद्वार

कार चला रहे अमित ने पुलिस को बताया कि उनके मित्र अवधेश पटेल की बीती एक दिसंबर को शादी हुई थी। जिसके बाद सभी दोस्त सोमवार की शाम घूमने और शादी की खुशी में सह भोज के लिए हरिद्वार आए। हरिद्वार घूमने के बाद यह सभी लोग ऋषिकेश आ गए। ऋषिकेश बीटीसी बस स्टैंड पर इन्होंने चाय पी। इसके बाद यह सभी नटराज चौक से होते हुए वापस हरिद्वार लौट रहे थे। अमित ने बताया कि सामने से आ रहे ट्रक के कारण उनकी कार अनियंत्रित हो गई। पुलिस ने मृतकों के शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्स ऋषिकेश भिजवाया है।