कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के कारण भारत ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर लगाया प्रतिबंध

 ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नया स्‍ट्रेन के कारण दुनिया भर में हड़कंप

ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नया स्‍ट्रेन के कारण दुनिया भर में हड़कंप मचा हुआ है। भारत ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है। इससे पहले कई और देशों ने ब्रिटेन से आने वाली फ्लाइट पर प्रतिबंध लगा दिया है।

नई दिल्‍ली, एएनआइ। ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नया स्‍ट्रेन के कारण दुनिया भर में हड़कंप मचा हुआ है। इससे ब्रिटेन में कोरोना के मामलों में तेजी से वृद्धि हुई है। इसके मद्देनजर भारत ने ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों पर आज रात 12 बजे से प्रतिबंध लगा दिया है। उससे पहले आने वाली उडान के हर यात्री के लिए RT-PCR टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है। इससे पहले कई और देशों ने ब्रिटेन से आने वाली फ्लाइट पर प्रतिबंध लगा दिया है।  नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि ब्रिटेन में मौजूदा स्थिति को देखते हुए भारतीय सरकार ने फैसला किया है कि वहां से भारत आने वाली सभी उड़ानों को अस्थायी रूप से 31 दिसंबर को रात 11:59 बजे तक निलंबित कर दिया गया है। यह निलंबन 22 दिसंबर को रात 11.59 बजे से लागू होगा।  

इससे पहले दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्र अरविंद केजरीवाल और राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध की मांग की थी। अरविंद केजरीवाल ने केंद्र से गुजारिश की थी कि ब्रिटेन से हवाई उड़ानों पर तत्काल प्रतिबंध लगाया जाए। इसके साथ आम आदमी पार्टी मुखिया ने यह भी कहा है कि लगातार बढ़ते मामलों के बीच ब्रिटेन के जरिये कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ सकते हैं। ऐसे में केंद्र सरकार को तत्काल ब्रिटेन से आने वाली हवाएं सेवाओं पर लगाम लगानी चाहिए।

ब्रिटेन के पीएम बोरिस जानसन ने बताया था कि देश में मिला ये नया स्‍ट्रेन करीब 60-70 तक संक्रामक है। लिहाजा ये पहले से ज्‍यादा खतरनाक है। उनके मुताबिक, इसकी वजह से अस्‍पतालों में मरीजों की संख्‍या में जबरदस्‍त इजाफा देखने को मिला है। इटली में जिन दो मरीजों में इस वायरस का नया स्‍ट्रेन मिला है, वे दोनों कुछ दिन पहले लंदन से आए थे। फिलहाल दोनों को आइसोलेशन में रखा गया है।

कई देशों ने ब्रिटेन की उड़ानों पर प्रतिबंध लगाया

कोरोना के नए स्‍ट्रेन पर वैज्ञानिकों के अलावा विभिन्‍न देशों की सरकारों की भी नजर है। जर्मनी ने ब्रिटेन की सभी उड़ानों को आधी रात से निलंबित करने का फैसला किया है। स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने कहा कि नया स्ट्रेन जर्मनी में अभी तक पहचाना नहीं गया है, लेकिन हम ब्रिटेन से आ रही रिपोर्टों को बहुत गंभीरता से ले रहे हैं। उधर, इटली के स्वास्थ्य मंत्री रॉबर्टो स्पेरान्‍जा ने कहा है कि लंदन में खोजा गया कोरोना वायरस का नया प्रकार चिंता का विषय है। इटली ने भी ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों प्र प्रतिबंध लगा दिया है।

सऊदी अरब और तुर्की ने सभी विदेश यात्राओं पर एक सप्‍ताह के लिए रोक लगा दी है। इस दौरान कोई विमान देश के बाहर न जाएगा और न ही आएगा। नीदरलैंड की सरकार ने रविवार से ब्रिटेन से यात्रियों को ले जाने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया और यह प्रतिबंध 1 जनवरी तक लागू रहेगा। ऑस्ट्रिया भी ब्रिटेन से उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने की योजना बना रहा है। इसके अलावा बुल्गारिया, लिथुआनिया, रोमानिया, लातविया, एस्टोनिया और चेक गणराज्य ने भी ब्रिटेन से उड़ान पर रोक की घोषणा की है। स्वीडन ने कहा कि वह ब्रिटेन से प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने के फैसले पर काम कर रहा है।