कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर उज्बेकिस्तान सरकार सतर्क, ब्रिटेन समेत आठ देशों के लिए बॉर्डर किए सील

 ब्रिटेन समेत आठ देशों को लेकर उज्बेकिस्तान ने लगाया प्रतिबंध

मध्य एशियाइ देश उज्बेकिस्तान की सरकार ने कहा कि 10 जनवरी तक यह प्रतिबंध जारी रहेगा। जिन देशों की सीमाओं को प्रतिबंधित किया गया है उनमें ब्रिटेन इटली जर्मनी डेनमार्क ऑस्ट्रिया नीदरलैंड ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं।

ताशकंद, रॉयटर्स। कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिलने के बाद उज्बेकिस्तान ने ब्रिटेन समेत आठ देशों के निवासियों के लिए अपनी सीमाओं को बंद कर दिया है। इनमें वो देश शामिल हैं जहां कोरोना संक्रमण के मामलों की संख्या बहुत ज्यादा है। इन देशों पर प्रतिबंध 10 जनवरी तक लागू रहेगा।

मध्य एशियाइ देश की सरकार ने कहा कि 10 जनवरी तक यह प्रतिबंध जारी रहेगा। जिन देशों की सीमाओं को प्रतिबंधित किया गया है उनमें इटली, जर्मनी, डेनमार्क, ऑस्ट्रिया, नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं। वहीं, इन देशों से वापस आने वाले उज्बेक नागरिकों को 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रखा जाएगा।

सऊदी अरब ने भी सील की अपनी सीमाएं

कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिलने के बाद सऊदी अरब ने अस्थायी रूप से सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर बैन लगा दिया है। गृह मंत्रालय का कहना है कि फिलहाल यह प्रतिबंध सात दिनों तक प्रभावी रहेगा, जिसे चिकित्सकों की सलाह पर आगे भी बढ़ाया जा सकता है। वायरस के नए प्रकार को रोकने के लिए सऊदी अरब ने देश की सीमाओं और बंदरगाहों को भी एक हफ्ते के लिए सील कर दिया है। इसके अलावा सऊदी सरकार ने पिछले तीन महीनों में यूरोपीय देश से आए लोगों को तुरंत अपना कोरोना टेस्ट करवाने को कहा है। नए प्रतिबंधों का असर कार्गो विमान सेवा और सप्लाई चेन पर नहीं पड़ेगा।

इन देशों में उड़ानों पर लगी रोक

बताया जा रहा है कि वायरस का यह नया प्रकार पहले से 70 फीसद अधिक संक्रामक है। कोविंड-19 का नया स्ट्रेन मिलने के बाद कई देशों द्वारा ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी गई है। फ्रांस, जर्मनी, इटली, बेल्जियम, डेनमार्क, बुल्गारिया, द आयरिश रिपब्लिक, तुर्की, कनाडा, हांगकांग, ईरान, क्रोएशिया, अर्जेटीना, चिली, मोरक्को और कुवैत ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है। इजरायल ने केवल ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर ही प्रतिबंध नहीं लगाया है बल्कि डेनमार्क और दक्षिण अफ्रीका से आने वाली उड़ानों पर भी बैन का एलान किया है।