जेल पहुंचने से ही पहले ही पुलिस की गिरफ्त से फरार हुआ कैदी
आरोपित पुलिस की पकड़ से छूटकर फरार हो गया।

आरोपित पहले पुलिस के घुटने पर लात से जबरदस्त धक्का मारा और फिर हाथ झटकर पुलिस की पकड़ से फरार हो गया। पहले तो पुलिस ने उसे ढूंढने की काफी कोशिश की लेकिन जब बात नहीं बनी तब मामले की शिकायत मायापुरी थाना में की गई।

नई दिल्ली। मंगोलपुरी थाने में दर्ज एक मामले का आरोपित इससे पहले कि सलाखों के पीछे पहुंचता वह पुलिस की पकड़ से छूटकर फरार हो गया। आरोपित पहले पुलिस के घुटने पर लात से जबरदस्त धक्का मारा और फिर हाथ झटकर पुलिस की पकड़ से फरार हो गया। पहले तो पुलिस ने उसे ढूंढने की काफी कोशिश की लेकिन जब बात नहीं बनी तब मामले की शिकायत मायापुरी थाना में की गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर घटना की तफ्तीश शुरू कर दी है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही आरोपित को दबोच लिया जाएगा।

मायापुरी थाने में दर्ज कराई गई अपनी शिकायत में एएसआइ दिलबाग ने कहा है कि साउथ रोहिणी थाने में पॉक्सो से जुड़े मामले में आरोपित सलमान को थाने के लॉकअप से कोर्ट में पेशी के लिए तिहाड़ परिसर स्थित कोर्ट में लाया गया। पेशी के बाद इसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया गया। इसके बाद सलमान को कोर्ट परिसर से बाहर निकालकर मुख्य सड़क पर लाया गया ताकि यहां से इसे जेल संख्या तीन पहुंचाया जा सके।मुख्य सड़क पर आने के बाद जब इसे गाड़ी पर बिठाने की तैयारी चल रही थी तभी इसने एएसआइ के बायें पैर के घुटने पर जबरदस्त धक्का दिया। धक्का लगने से एएसआइ लड़खड़ा गए। जैसे ही वे झुके आरोपित ने हाथ को झटका और फरार हो गया। वह भाग के सड़क के दूसरे हिस्से की ओर चला गया। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने उसका काफी पीछा किया लेकिन बात नहीं बनी।

आरोपित के फरार होने के बाद मामले से पुलिस के वरीय अधिकारियों को अवगत कराया गया। फिलहाल आरोपित की तलाश में पुलिस की कई टीमें जुटी हैं। मायापुरी थाना के अलावा रोहिणी जिला के पुलिसकर्मी भी आरोपित की तलाश में जुटे हैं। घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगालकर उस रास्ते पर तलाश में जुटी है जिधर आराेपित गया था। मामले की तहकीकात जारी है।