वेब सीरीज़ 'आश्रम' के लिए बॉबी देओल और प्रकाश झा को जोधपुर कोर्ट से नोटिस, जानें पूरा मामला

 आश्रम वेब सीरीज़ का दूसरा सीज़न पिछले महीने रिलीज़ हुआ था। फोटो- ट्विटर


सीरीज़ का दूसरा सीज़न आश्रम चैप्टर 2- द डार्क साइड 11 नवम्बर को एमएक्स प्लेयर पर स्ट्रीम किया गया था। इस सीरीज़ में बॉबी देओल एक पाखंडी धर्म गुरु के किरदार में हैं। सीरीज़ के ख़िलाफ़ सोशल मीडिया में कैंपेन चलाया गया था।

नई दिल्ली। एमएक्स प्लेयर की वेब सीरीज़ आश्रम के लिए लीड एक्टर बॉबी देओल और निर्माता-निर्देशक प्रकाश झा को जोधपुर की अदालत ने लीग नोटिस भेजा है, जिसकी सुनवाई 11 जनवरी को की जाएगी। बता दें, प्रकाश झा की इस सीरीज़ को लेकर रिलीज़ होने के पहले से ही विवाद चल रहा है।

सीरीज़ का दूसरा सीज़न आश्रम चैप्टर 2- द डार्क साइड 11 नवम्बर को एमएक्स प्लेयर पर स्ट्रीम किया गया था। इस सीरीज़ में बॉबी देओल एक पाखंडी धर्म गुरु के किरदार में हैं। सीरीज़ के ख़िलाफ़ सोशल मीडिया में कैंपेन चलाया गया था कि यह एक वर्ग की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाती है। इससे पहले पिछले महीने भी आश्रम को करणी सेना के प्रदेश संगठन महामंत्री सुरजीत सिंह ने एक लीगल नोटिस भेजा था, जिसमें सीरीज़ के निर्माताओं पर भारतीय परम्पराओं और हिंदू धर्म के रीति-रिवाज़ों पर हमला करने का आरोप लगाया गया था। सीरीज़ के कुछ दृश्यों को लेकर भी नोटिस में एतराज़ जताया गया था। इन्हें हिंदू संस्कृति में आश्रम की परम्परा के विरुद्ध कहा गया।

जब वेब सीरीज़ का पहला टीज़र जारी किया गया था, तब से इस पर ऐसे ही आरोप लग रहे हैं। पहले सीज़न के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा देखा गया था। हालांकि, वेब सीरीज़ के पहले सीज़न के ट्रेलर से पहले ही एक डिस्केलमर भी जारी किया गया था, जिसमें मेकर्स ने बताया था कि वह साधु-संतों की परम्परा पर भरोसा रखते हैं। इस सीरीज़ की कहानी बिल्कुल ही काल्पनिक है। उनकी किसी की भी भावना आहत करने का कोई विचार नहीं है।वेब सीरीज़ कहानी एक काल्पनिक बाबा के इर्द-गिर्द बुनी गई है। बाबा निराला काशीपुर वाले का किरदार बॉबी देओल ने निभाया है। इसमें दिखाया गया है कि बाबा कुछ क्षेत्रों में काफी पावरफुल हैं। उनके पास भक्तों की बड़ी संख्या है। उनके पास राजनीतिक ताकत भी है। सीरीज़ में बॉबी के अलावा अदिति पोहनकर, चंदन रॉय सान्याल, दर्शन कुमार, अनुप्रिया गोयनका, अध्ययन सुमन ने अहम किरदार निभाये हैं।