केंद्र के नए कृषि कानूनों से देश में बढ़ेगी महंगाई, किसान संकट में हैः केजरीवाल

 मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उपवास के दौरान बोलते हुए: जागरण


केजरीवाल ने कहा कि नए कृषि कानूनों देश में महंगाई बढ़ेगी। ये कानून केवल किसानों के खिलाफ ही नही जनता के भी खिलाफ है। किसान पूरी जनता पर अहसान कर रहे हैं कि धरने पर बैठे हैं। हम मांग करते हैं कि केंद्र सरकार इन तीनों कानून को वापस ले।

नई दिल्ली । किसानों के समर्थन में पार्टी मुख्यालय में आयोजित सामूहिक उपवास में आम आदमी पार्टी के संयोजक और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज देश का किसान संकट में है। आज जिस किसान को खेत मे होना चाहिए था, वह किसान आज दिल्ली की सीमा पर बैठा है। आज पार्टी के लोगों ने उपवास पर किसानों का समर्थन किया है।

केजरीवाल ने कहा कि जब किसान आंसू गैस के गोले झेलते हुए दिल्ली की सीमा पर पहुंचे तो केंद्र सरकार ने प्लान बनावा कि इन्हें स्टेडियम में जेल बनाकर जेल में डाल देंगे। हमें पता था कि स्टेडियमों को किस तरह के जेल के रूप में उपयोग किया जाता है। हम भी आंदोलन के समय इन्ही जेलों में रहे हैं। केंद्र सरकार ने एक दिन हमें घर में कैद कर लिया। इनके आंदोलन में नही जाने दिया। मुझे दुख होता है जब इन किसानों को टुकड़े टुकड़े गैंग कहा जाता है। इन्हें देशद्रोही कहा जाता है। इन्ही किसानों का एक बेटा देश की सीमा पर तैनात है दूसरा बेटा खेत में है।केजरीवाल ने कहा कि नए कृषि कानूनों देश में महंगाई बढ़ेगी। ये कानून केवल किसानों के खिलाफ ही नही जनता के भी खिलाफ है। किसान पूरी जनता पर अहसान कर रहे हैं कि धरने पर बैठे हैं। हम मांग करते हैं कि केंद्र सरकार इन तीनों कानून को वापस ले।

बता दें कि सीएम केजरीवाल किसानों के समर्थन में सोमवार को उपवास किया। इससे पहले रविवार को उन्होंने आम आदमी पार्टी (आप) के कार्यकर्ताओं और देशवासियों से भी उपवास रखने की अपील की। उन्होंने कहा, पिछले कुछ दिनों से भाजपा के मंत्री और नेता किसानों को देशद्रोही बताकर उनके आंदोलन को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। भाजपा के मंत्री-नेता बताएं कि क्या ये सारे लोग देशद्रोही हैं? इससे पहले कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने प्रेसवार्ता कर कहा था कि आप के सभी विधायक, पार्षद पार्टी मुख्यालय में उपवास करेंगे।