उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी, जानें- बिहार-यूपी सहित अन्य राज्यों के मौसम का हाल

 

आज सुबह दिल्ली के कई इलाकों में कोहरा छाया रहा। (फोटो एएनआई)

राजधानी दिल्ली में अगले दो दिनों तक शीतलहर का प्रकोप जारी रहने का अनुमान है। झारखंड के कुछ इलाकों में बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने चेतावनी से भरी एक एडवाइजरी जारी की है।

नई दिल्ली, एजेंसी। उत्तर भारत के कई भागों में शीतलहर का प्रकोप जारी है और ठंड से अभी राहत मिलने की संभावना नहीं है। जानकारी के मुताबिक, ठिठुरन भरी सर्दी का यह सिलसिला अभी आगे भी जारी रहने की संभावना है। राजधानी दिल्ली में अगले दो दिनों तक शीतलहर का प्रकोप जारी रहने का अनुमान है। झारखंड के कुछ इलाकों में बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने चेतावनी से भरी एक एडवाइजरी जारी की है जिसमें साफ किया है कि जनवरी के अंत तक देश के कई राज्यों के हिस्सों में शीत लहर का प्रकोप रहेगा। मौसम फिर करवट लेगा और देश के कुछ इलाकों में बारिश की संभावना बनी हुई है।

बिहार में सर्दी चरम पर

बिहार में सर्दी एक बार फिर चरम पर नजर आ रही है। दिन के तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गयी है। राजधानी पटना, भागलपुर, मुजफ्फरपुर और गया समेत राज्य के अधिकतर शहरों के अधिकतम तापमान में सामान्य से छह डिग्री सेल्सियस की कमी दर्ज की गई है।

राजस्थान में कड़ाके की सर्दी 

राजस्थान के ज्यादातर इलाकों में कड़ाके की सर्दी जारी है। राज्य के एक मात्र पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया। विभाग ने अगले 24 घंटे में अलवर, भीलवाड़ा, भरतपुर, चित्तोडगढ़, झुंझुनू, सीकर, उदयपुर जिलों में शीत लहर से अति शीत लहर का अनुमान लगाया है। वहीं भीलवाड़ा, सीकर, झुंझुनूं, चित्तोडगढ़ जिले में कुछ जगह पाला पड़ने की संभावना जताई है।

पंजाब और हरियाणा में शीतलहर (weather news punjab and haryana)

पंजाब और हरियाणा में ठंड तथा शीतलहर का प्रकोप जारी है और आदमपुर में तापमान एक डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि दोनों राज्यों में न्यूनतम तापमान सामान्य से कुछ डिग्री नीचे रहा। अभी कुछ दिन ठंड का असर इसी तरह रहेगा।

झारखंड में बारिश से बढ़ी ठंड

झारखंड के कुछ इलाकों में शुक्रवार सुबह से ही बारिश हो रही है। इटखोरी में शुक्रवार को सुबह साढ़े छह बजे से तेज गर्जना के साथ बारिश शुरू हो गई है,जिससे ठंड का असर बढ़ गया है, बारिश के कारण लोग अपने घरों में दुबके हैं।

मप्र के बड़े हिस्से में शीतलहर 

मध्य प्रदेश का बड़ा भाग शीतलहर की चपेट में है। प्रदेश में सबसे कम तापमान लोकप्रिय पर्यटन स्थल खजुराहो में तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। भारत मौसम केन्द्र (आईएमडी), भोपाल ने कहा कि छतरपुर और दतिया जिलों में शुक्रवार सुबह तक अलग-अलग स्थानों पर कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना है।