डलावघरों की गंदी दीवारें देख कर पहले लोग फेर लेते थे मुंह, अब पेंटिंग दे रही स्वच्छता का संदेश

 

स्वच्छता का संदेश देने के लिए हौजखास विलेज में डलावघर की दीवार पर बनाई गई पेंटिंग।
निगम के अधिकारियों का कहना है कि यह एक तरह से अगले स्वच्छता सर्वेक्षण में रैंकिंग सुधारने की पहल भी है। ये पेंटिंग निजी कलाकारों की ओर से बनवाई गई है लेकिन इनकी थीम एसडीएमसी स्कूल के बच्चों व शिक्षकों की ओर से तैयार की गई है।

नई दिल्ली, संवाददाता। हौजखास विलेज व हुमायूंपुर गांव के डलावघरों का दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की ओर से सुंदरीकरण करवाया गया है, जिससे अब ये काफी आकर्षक लग रहे हैं। अंदर से भी इनकी दीवारों पर पेंटिंग करवाई गई है। इन पर स्वच्छता का संदेश देने वाली पेंटिंग बनाई गई है। दरअसल, निगम की ओर से डलावघरों को इसलिए भी सजाया व पेंट किया जा रहा है, ताकि लोगों को इसके जरिये स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जा सके।

निजी कलाकारों की ओर से बनवाई गई पेंटिंग 

निगम के अधिकारियों का कहना है कि यह एक तरह से अगले स्वच्छता सर्वेक्षण में रैंकिंग सुधारने की पहल भी है। ये पेंटिंग निजी कलाकारों की ओर से बनवाई गई है, लेकिन इनकी थीम एसडीएमसी स्कूल के बच्चों व शिक्षकों की ओर से तैयार की गई है।

डलावघरों के अलावा पार्क आदि की दीवारों पर ऐसी पेंटिंग करवाई गई

इन पेंटिंगों में स्वच्छता के अलावा कोरोना से बचाव के लिए बरती जाने वाली सावधानियों के संदेश भी दिए गए हैं। निगम की ओर से श्रीनिवासपुरी, ओखला मंडी व लोधी कालोनी इलाके में भी डलावघरों के अलावा पार्क आदि की दीवारों पर ऐसी पेंटिंग करवाई गई हैं।

डलावघरों की दीवारें गंदी होने से लोग इन्हें पसंद नहीं करते थे। अब हुमायूंपुर व हौजखास विलेज के दोनों डलावघरों का सुंदरीकरण करवा दिया गया है। जल्द अन्य डलावघर भी ऐसे ही आकर्षक नजर आएंगे। इन पर सामाजिक संदेश देते हुए चित्र बनवाए जाएंगे। डलावघरों को इतना आकर्षक बनवाया जाएगा कि लोग इनके सामने खड़े होकर सेल्फी भी ले सकेंगे।