क्या म्यूचुअल फंड निवेश का सही विकल्प है? निवेश से संबंधित सवालों के लिए 13 फरवरी को वेबिनार के साथ जुड़ें

 



नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क।
 बचत और निवेश के सही संतुलन से एक व्यक्ति खुद को वित्तीय रूप से सशक्त बना सकता है। यह आदत उसे वेल्थ क्रिएशन और इन्फ्लेशन को बीट करने में मदद करेगी। इसका फायदा व्यक्ति को रिटायरमेंट में भी मिलता है। वह इसकी मदद से अपने वित्तीय लक्ष्य को पूरा भी कर सकता है। बचत के बारे में ऐसा कहा जाता है कि आप अपनी आय का 15 से 20 फीसदी हिस्सा जरूर सेव करें। अगर आप इससे ऊपर बचत करते हैं, तो यह आपके लिए और अच्छी बात है। बचत किए गये पैसे के कुछ हिस्से को आप निवेश कर सकते हैं और कुछ इमरजेंसी के लिए अपने पास रख सकते हैं। 

देखा गया है कि बचत को लेकर लोग स्पष्ट होते हैं, लेकिन जब बात निवेश की आती है तो गिने चुने पारंपरिक तरीके ही उनके दिमाग में आते हैं। आज निवेश के कई विकल्प मौजूद हैं, जहां आप लॉन्ग टर्म के लिए अपने पैसे को निवेश करके अच्छा रिटर्न कमा सकते हैं। निवेश से कमाया हुआ पैसा आपकी और आपके परिवार की जरूरतों जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, बेटी की शादी और रिटायरमेंट बचत आदि को पूरा करने में मदद करेगा। अच्छी बात यह है कि निवेश की कई ऐसी योजनाएं भी हैं, जहां आप टैक्स में छूट भी प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन हर आम आदमी की तरह हमारे दिमाग में भी एक सवाल जरूर आता है कि निवेश कहां करें? ताकि हमें भविष्य में अच्छा रिटर्न प्राप्त हो सके। 

अगर आपको लॉन्ग टर्म के लिए अच्छा रिटर्न कमाना है, तो आपको शेयर मार्केट में पैसा लगाना चाहिए। लेकिन एक्सपर्ट मानते हैं कि शेयर मार्केट हर किसी के लिए नहीं है। अगर आपकी मार्केट पर अच्छी पकड़ नहीं है, तो आपको निवेश के दूसरे तरीकों के बारे में सोचना चाहिए, जहां शेयर मार्केट की तुलना में रिस्क कम हो और रिटर्न इतना हो कि इन्फ्लेशन को आराम से बीट किया जा सके। इस मामले में म्यूचुअल फंड हमेशा ही एक अच्छा इनवेस्टमेंट ऑप्शन रहा है। हाल के कुछ सालों में इसमें निवेश करने को लेकर लोगों में जागरुकता भी बढ़ी है।                    

हालांकि, म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले हमें कई बातों को ध्यान में रखना चाहिए। जैसे, निवेशकों को SEBI में रजिस्टर्ड म्यूचुअल फंडो में निवेश करना चाहिए, जिस फंड में आप निवेश कर रहे हैं, उसके रिस्क के बारे में भी अच्छी तरह से पता लगा लें और एक्सपर्ट की माने तो म्यूचुअल फंड में निवेश हमेशा लॉन्ग टर्म के लिए करना चाहिए। 

अगर निवेश से संबंधित लोगों की शंका दूर होगी तो वह अवश्य सही जगह पैसा लगाएंगे और ज्यादा रिटर्न भी कमाएंगे। पर्सनल फाइनेंस, टैक्स प्लानिंग और दूसरे वित्तीय प्लानिंग को लेकर लोगों में जागरूकता को बढ़ाने के लिए 13 फरवरी 2021 को शाम साढ़े चार बजे एक विशेष वेबिनार के जरिए लोगों में निवेश को लेकर जागरूकता फैलाई जाएगी। 

अगर आपके मन में बचत, निवेश, टैक्स और पोर्टफोलियो मैनेजमेंट से संबंधित सवाल है, तो आप इस वेबिनार से जरूर जुड़ें। इस वेबिनार में यूनियन बजट और उसका पर्सनल फाइनेंस पर क्या प्रभाव पड़ेगा उस पर भी चर्चा की जाएगी। इसमें भाग लेने वाले विशेषज्ञों में आदित्य बिड़ला सन लाइफ AMC- इवेस्टर एजुकेशन (नोर्थ) के जोनल मैनेजर श्री ललित शर्मा, यूपी और उत्तराखंड आदित्य बिड़ला सन लाइफ AMC के क्षेत्रीय प्रमुख श्री बृजेश गिरी, वित्तीय कोच, सार्वजनिक वक्ता और लेखक - श्री विनायक सप्रे और सुई जेनेरिस कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड के को-फाउंडर और सीनियर कंसल्टेंट क्षितिज अग्रवाल शामिल होंगे। वेबिनार में दर्शकों को प्रश्नोत्तर सत्र के दौरान विशेषज्ञों से निवेश से संबंधित प्रश्न पूछने का अवसर भी मिलेगा।    

जब जानकारी दुरुस्त रहती है, तो निवेशक निवेश के बारे में सोचता है। कहीं भी निवेश करने से पहले आपको उससे जुड़ी जानकारी को अच्छी तरह से प्राप्त कर लेना चाहिए।