मुंबई की तरह दिल्ली-एनसीआर में भी रफ्तार भरने लगीं लोकल ट्रेनें, इन 17 शहरों को होगा फायदा

8 ट्रेनें गाजियाबाद स्टेशन पर रुक कर गुजरेंगी, ऐसे में गाजियाबाद के साथ नोएडा के लोगों को भी लाभ होगा।

 मुंबई की तरह लोग दिल्ली-एनसीआर में भी लोकल ट्रेनों में सोमवार से सफर कर सकेंगे। दर्जन भर से अधिक लोकल ट्रेनों के चलने से दिल्ली के साथ एनसीआर के दर्जन भर शहरों के 1 लाख लोगों को फायदा होगा।

नई दिल्ली । दिल्ली-एनसीआर के दर्जनभर से अधिक शहरों में लोकल ट्रेन की सेवाएं सोमवार सुबह से शुरू हो गई है। लोकल ट्रेनों का संचालन शुरू होने से दादरी, नोएडा, पिलखुवा, फरीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत, पानीपत, मेरठ, हापुड़, अलीगढ़, बुलंदशहर, खुर्जा और मोदीनगर के हजारों लोगों को इसका लाभ मिल रहा है। सबसे बड़ा फायदा तो गाजियाबाद के लोगों को होगा, क्योंकि ज्यादातर ट्रेनें दिल्ली से चलने के बाद गाजियाबाद स्टेशन पर जरूर रुकेंगे।  यह पहला मौका होगा जब गाजियाबाद, पलवल, फरीदाबदा में पैसेंजर और ईएमयू स्पेशल ट्रेनें रुकेंगी। ऐसे में उत्तर रेलवे द्वारा 35 नई पैसेंजर और ईएमयू ट्रेनों का संचालन शुरू करने से गाजियाबाद स्टेशन से ही लोग दादरी, पिलखुवा, फरीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत, पानीपत, मेरठ, हापुड़, अलीगढ़, बुलंदशहर, खुर्जा, मोदीनगर, नोएडा और ग्रेटर नोएडा के लिए ट्रेन पकड़ सकते हैं। 

देरी से चलने वाली दिल्ली की ट्रेनें

 राजेंद्र नगर टर्मिनल-नई दिल्ली संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस-27 मिनट

  • कुरुक्षेत्र-हजरत निजामुद्दीन एक्सप्रेस-51 मिनट
  • हजूर साहिब नांदेड़-अमृतसर सचखंड एक्सप्रेस-17 मिनट
  • जबलपुर-हजरत निजामुद्दीन महाकौशल एक्सप्रेस-23 मिनट
  • योग नगरी ऋषिकेश-पुरी त्योहर एक्सप्रेस-15 मिनटL
  • एर्नाकुलम-हजरत निजामुद्दीन मंगला लक्षद्वीप एक्सप्रेस-31 मिनट
  • जम्मूतवी-बाड़मेर एक्सप्रेस-15 मिनट
  • बरेली-भुज त्योहार विशेष-20 मिनट
  • मुजफ्फपुर-पोरबंदर मोतिहारी एक्सप्रेस-15 मिनट
  • जयपुर-दिल्ली सराय रोहिल्ला-19 मिनट

वहीं, दैनिक यात्रियों के मुताबिक, एक्सप्रेस ट्रेनों में सफर के दौरान करीब-करीब दोगुना किराया देना पड़ेगा। एक दैनिक यात्री की मानें तो दिल्ली-एनसीआर में चलने वाली पैसेंजर ट्रेनों में जहां दिल्ली  से पालम जाने का किराया मात्र 10 रुपये हैं तो वहीं एक्सप्रेस और मेल ट्रेनों में यात्रियों को किराये के रूप में 30 से लेकर 40 रुपये तक अदा करना पड़ेगा।

गाजियाबाद के लोगों को होगा सर्वाधिक लाभ

बता दें कि पिछले सप्ताह रेल मंत्री पीयूष गोयल  ने ट्वीट कर 35 नई पैसेंजर ट्रेनों के साथ ईएमयू ट्रेनों का संचालन दोबारा से शुरू करने की जानकारी दी थी। रेलवे के मुताबिक, 22 फरवरी से जिन 35 ट्रेनों को चलाने का निर्णय लिया गया है वे सभी अनारक्षित मेल और कुछ एक्सप्रेस स्पेशल श्रेणी की ट्रेनें हैं। 22 फरवरी से शुरुआती चरण में रेलवे ने जिन 35 ट्रेनें को चलाने का फैसला किया है, उसमें 8 ट्रेनें गाजियाबाद स्टेशन पर रुक कर गुजरेंगी, ऐसे में गाजियाबाद के साथ नोएडा के लोगों को भी लाभ होगा।