दुुुुुुनिया के अन्य देशों को चीन देगा कोविड-19 वैक्सीन की 1 करोड़ खुराक

 

विकासशील देशों को कोविड-19 वैक्सीन देगा चीन

चीन (China) ने बुधवार को ग्लोबल COVAX अभियान के तहत विकासशील देशों को कोरोना वायरस की 1 करोड़ खुराक देने की योजना का ऐलान किया। 2019 के अंत में चीन के वुहान से ही कोरोना वायरस संक्रमण की शुरुआत हुई थी।

 बीजिंग, एपी। जहां से कोरोना वायरस का संक्रमण शुरू हुआ था वहां से अब दुनिया में कोविड-19 वैक्सीन की 1 करोड़ खुराक भेजी जाएगी। चीन ने बुधवार को ग्लोबल COVAX अभियान के तहत विकासशील देशों को कोरोना वायरस की 1 करोड़ खुराक देने की योजना का ऐलान किया। विदेश मंत्रालय  के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि चीन विश्व स्वास्थ्य संगठन  के आग्रह पर यह काम कर रहा है क्योंकि विकासशील देश मार्च मेें वैक्सीन की कमी को पूरा करना चाहते हैं।

वांग ने इसे चीन द्वारा लिया गया पॉलिसी का अहम फैसला बताया जो महामारी के खिलाफ वैक्सीन के एक समान वितरण और अंतरराष्ट्रीय सहयोग को बढ़ाने के लिए किया गया। बता दें कि 2019 के अंत में चीन के वुहान से ही कोरोना वायरस संक्रमण की शुरुआत हुई थी। इस बात का ही पता लगाने बुधवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक टीम ने चीन के वुहान स्थित उस लैब का दौरा किया, जिसके बारे में कहा जाता है कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति यहीं से हुई है। टीम शामिल एक वैज्ञानिक ने बताया कि वे लैब के कर्मचारियों से मुलाकात कर प्रमुख मुद्दों पर बात करना चाहते हैं। बता दें कि बीजिंग की दवा निर्माता कंपनी साइनोवैक, कोरोनावैक नामक वैक्सीन का निर्माण कर रही है।

दुनिया में अभी कोविड-19 महामारी का कहर अभी थमा नहीं है। कोरोना वायरस के खात्मे के लिए पूरी दुनिया एकजुट है। हालांकि कोरोना वायरस (कोविड-19) को खत्म करने के लिए दुनिया के कई देशों में लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जाने की प्रक्रिया जारी है। अनेक देशों में एक करोड़ से अधिक लोगों को अब तक कोरोना वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। वहीं दुनिया भर में अब तक साढ़े तीन करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज लोगों को दी जा चुकी है। अनकों देश में मंजूरी मिलने के बाद लोगों को वैक्सीन दी जा रही है।