पंजाब में 1 मार्च से फिर लगेंगी पाबंदियां, नाइट कर्फ्यू का अधिकार डीसी को

 

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की फाइल फोटो।

पंजाब में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए नई गाइडलाइन जारी कर दी गई है। यह गाइडलाइन 1 मार्च से प्रभावी मानी जाएगी। राज्य में इनडोर व आउटडोर में एकत्र होने वाले लोगों की लिमिट तय कर दी गई है।

 चंडीगढ़। एक बार फिर कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए पंजाब सरकार ने राज्य में नए दिशा निर्देश जारी किए हैं। इनडोर में 100 व आउटडोर में 200 से ज्यादा लोगों की भीड़ एकत्र नहीं हो पाएगी। यह  फैसला एक मार्च से लागू होगा। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि राज्य में कोरोना सैंपलिंग का लक्ष्य 30 हजार प्रतिदिन कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जरूरत पड़ने पर रात का कर्फ्यू भी लगाया जा सकता है। इसके लिए जिला उपायुक्त अधिकृत होंगे। उन्होंने माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने के निर्देश भी दिए हैं। मास्क पहनना व शारीरिक दूरी का पालन करना सुनिश्चित किया जाएगा। सभी रेस्टोरेंट्स व मैरिज पैलेस को विशेष दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे। सिनेमा हाल में भी लोगों की मौजूदगी को सीमित करने के लिए कहा गया है।

एक उच्चस्तरीय वर्चुअल बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पुलिस को मास्क पहनने, सभी रेेस्टोरेंटों और मैरिज पैलेसों की तरफ से कोविड नियमों को लेकर जारी नोटिफिकेशन का सख़्ती के साथ पालन करवाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिनेमाघरों में संख्या कम करनेे का फ़ैसला एक मार्च के बाद लिया जाएगा।

कैप्टन ने कहा कि प्रत्येक पॉजीटिव व्यक्ति के संपर्क में आए 15 व्यक्तियों का टेस्ट किया जाएगा। इनकी निगरानी भी की जाएगी। मुख्यमंत्री ने टीकाकरण की प्रगति का जायज़ा लेतेे हुए सूचना, शिक्षा और संचार (आइईसी) मुहिम जारी रखने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया, जिससे सभी सेहत संभाल कर्मचारियों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया जा सके।इससे पहले स्वास्थ्य सचिव हुस्न लाल ने कहा कि अमृतसर, होशियारपुर, जालंधर, लुधियाना, पटियाला, मोहाली और शहीद भगत सिंह नगर जिलों में हाल ही के दिनों दौरान कोविड के मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है। इससेे मामलों की संख्या बढ़ने की आशंका है।