प्रियंका ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, बोलीं- खरबपतियों के लिए धड़कता है 56 इंच का सीना

 

 

सहारनपुर में किसान महापंचायत में कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ने संबोधित किया।
सहारनपुर महापंचायत में प्रियंका वाड्रा ने पीएम मोदी पर निशाना साधा। कहा कि पीएम का सीना खरबपतियों के लिए धड़कता है। साथ ही कृषि कानूनों पर बोलते हुए कहा कि यह कानून किसानों को बर्बाद कर देगा।

सहारनपुर, किसान महापंचायत बुधवार को सहारनपुर के चिलकाना में कांग्रेस की ओर से आयोजित की गई थी। इस दौरान कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्‍होंने कहा कि पीएम अपनी जुबान के पक्‍के नहीं हैं। पीएम का 56 इंच का सीना खरबपतियों के लिए धड़कता है। कहा कि इस देश को आत्मनिर्भर बनाने वाला किसान है। किसान का बेटा सीमा पर शहीद होता है, किसान का ही बेटा पीएम की सुरक्षा करता है लेकिन प्रधानमंत्री किसान को नहीं पहचान रहे। वह उनका अपमान कर रहे हैं। कहा कि कोरोना में कहां थे यह खरबपति मित्र जब लोग पैदल घर जा रहे थे। कांग्रेस सरकार आएगी तो यह कृषि कानून रद होगा। आप खड़े होइए, हिम्मत बनाइये, यह अस्तित्व का आंदोलन है और हम आपके साथ हैं। प्र‍ियंका ने कृषि कानूनों को राक्षस रूप बताते हुए कहा कि यह जमाखोरी के दरवाजे खोलेंगे। लगभग शाम पांच बजे प्रियंका वाड्रा सहारनपुर से रवाना हो गईं।  किसानों के दिल की बात सुनने, समझने, उनसे अपनी भावनाएँ बाँटने, उनके संघर्ष का साथ देने आज सहारनपुर में रहूँगी।

खरबपति तय करेंगे आपके फसल का रेट: प्रियंका 

महापंचायत को संबोधित करते हुए कहा कि जो 3 कानून हैं वो राक्षस रूपी हैं। पहला कानून जमाखोरी के दरवाजे खोलेगा। पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने जमा खोरी बंद कराई थी। यह नया कानून खरबपतियों को मदद करेगा। आपकी फसल कैसे खरीदी जाए खरबपति तय करेंगे। सरकारी मंडी डम्प हो जाएंगी। जमाखोर प्राइवेट मंडी में सामान डम्प करेंगे। जब चाहेंगे माल निकालेंगे।

पीएम ने किया धोखा 

कहा कि कांट्रेक्ट फार्मिंग में धोखा मिलेगा। कम्पनी मनमाना दाम तय करेगी। सरकारी मंडी बंद होगी। Msp बंद होगी, जमाखोरी बढ़ेगी। किसान की आवाज दबेगी। अरबपतियों की आवाज ही रहेगी। पीएम मोदी ने कहा था कि सत्ता में आते ही 15 हजार करोड़ का गन्ना भुगतान ब्याज समेत होगा। अब तक बकाया भुगतान नहीं हुआ। 2 हवाई जहाज 16 हजार करोड़ में खरीदे गए। पीएम मोदी की जुबान पक्की नहीं है। दिल्ली में संसद भवन के सौन्दर्यीकरण  के लिए 20 हजार करोड़ रखे। लेकिन किसानों को कोई भुगतान नहीं किया। पीएम ने किसानों को धोखा दिया है। 

खरबपतियों के लिए धड़कता है पीएम के 56 इंच का सीना 

आपने बहुत देख लिया मोदी का 56 इंच का सीना जो खरबपतियों के लिए धड़कता है। इस देश को आत्मनिर्भर बनाने वाला किसान है। किसान का बेटा सीमा पर शहीद होता है। किसान का बेटा पीएम की सुरक्षा करता है। पीएम किसान को नहीं पहचान रहे। रोज किसान को अपमानित कर रहे। कहते हैं यह आतंकवादी हैं, संसद में किसान का अपमान किया। आंदोलनगीरी कहकर अपमान किया। ऐसा व्यक्ति देशभक्त नहीं हो सकता। 78 दिन से किसान बॉर्डर पर है। लेकिन पीएम को इसकी फिक्र नहीं है। 

यह अस्तित्‍व का आंदोलन 

प्रियंका वाड्रा ने कहा कि किसानों की शहादत का अपमान किया। कई प्रतिष्ठान बेच डाले। हम इस आंदोलन में आपके साथ हैं। जाग जाइए जिससे आप उम्मीद रख रहे हैं वो कुछ नहीं करेंगे। वादे खोखले करते हैं। अपने खरबपति मित्रों के लिए सब किया। कोरोनाकाल में कहां थे यह खरबपति मित्र, जब लोग कोरोना में पैदल घर गए तो यह खरबपति मित्र कहां थे। यह अस्तित्व का आंदोलन है, पीछे मत हटिए हम साथ हैं आपके साथ लड़ेंगे। कांग्रेस सरकार आएगी तो यह कानून रद होगा। न्यूनतम मूल्य तय होगा। आपके दिलों के साथ राजनीति नहीं करेंगे। धर्म जाति के नाम पर तोड़ेंगे नहीं आप सब इस आंदोलन से जुड़िए चाहे किस भी मजहब से हो। आप खड़े होइए हिम्मत बनाइए हम आपके साथ हैं। प्रियंका वाड्रा कहती हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो नए कृषि कानूनों को खत्म कर देगी। 

कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू ने कहा पीएम ने किसानों का अपमान किया 

अजय लल्लू का भाषण शुरू। कहा कि किसान हताश है, पीएम ने किसानों नौजवानों का अपमान किया है। गन्ना किसान परेशान है अब तक गन्ना मूल्य तय नहीं कांग्रेस किसान के साथ है। किसान की लड़ाई को लड़ने प्रियंका सहारनपुर आई है। कहा कि किसान की आवाज को दबने नहीं देंगे। 

जौली ग्रांट एयरपोर्ट से बाईरोड सहारनुपर आईं 

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा दिल्ली से जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर पहुंची। हवाई अडडे पर कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। इसके बाद वे यहां से उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले के लिए प्रस्थान किया। जौलीग्रांट से सहारनपुर तक बाईरोड आईं। इधर प्रियंका के स्‍वागत के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे। साथ ही किसानों का सैलाब उमड़ा रहा। 

25 मिनट तक शाकंभरी देवी की पूजा 

देहरादून एयरपोर्ट से रवाना होने के बाद कांग्रेस महा सचिव प्रियंका वाड्रा सहारनपुर लगभग 12.30 पहुंच गई। यहां उन्‍होंने शाकंभरी देवी से पहले भूरा देव के दर्शन किए। इसके बाद माता शाकंभरी देवी के दर्शन की। यहां इन्‍होंने 25 मिनट तक पूजा करती रहीं। इनके साथ कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू, विधायक अराधना मिश्रा व स्‍थानीय विधाक मौजूद रहे। यहां के बाद ये खानकाह के लिए रवाना हुई। वहां पर इनकों उपहार भेंट किया गया। जिसके बाद ये चिलकाना महापंचायत स्‍थल पर पहुंची। 

कैसी रही तैयारी 

किसान महापंचायत के मद्देनजर एक दिन पहले ही तैयारियां पूरी हो चुकी थी। सुबह में मच लगा दिया गया था। मैदान में कुर्सियां लगाई गई थी। साथ ही कांग्रेस झंडे व पोस्‍टर लगे रहे। इस बीच में पुलिस ने भी सुरक्षा व्‍यवस्‍था चौकस रखी हुई थी। ड्रोन कैमरे से निगरानी रखी जा रही थी। इसके अलावा पुलिस फोर्स और अधिकारी समय-समय पर निरीक्षण करते हुए नजर आए। 

जिले में धारा 144 लागू  

जिला प्रशासन ने बताया कि त्‍यौहारों व किसान आंदोलन के मद्देनजर जिले में धारा 144 लगाई गई है। ताकि किसी तरह की अव्‍यवस्‍थता न फैले। डीएम ने जानकारी दी कि धारा 144 पहले से ही लागू की गई है। जिसे किसान महापंचायत और आंदोलन अंतर्गत आगे बड़ा दिया गया है। जोकि होली तक लागू रहेगी।