अलीगढ़ में आठ हजार हेल्थ व आंगनबाड़ी कर्मियों को टीकाकरण का अंतिम मौका

 

अलीगढ़ में आठ हजार हेल्थ व आंगनबाड़ी कर्मियों को टीकाकरण का अंतिम मौका

स्वास्थ्य कर्मियों को अंतिम मौका दिया जा रहा है।

कोरोना टीकाकरण के दौरान पहले चरण में बूथों पर न पहुंचने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को अंतिम मौका दिया जा रहा है। ऐसे कर्मियों के लिए 15 फरवरी को मापअप राउंड चलेगा। जिन कर्मियों ने पहले चरण के दौरान आयोजित छह दिवसों में टीके नहीं लगवाए

अलीगढ़। कोरोना टीकाकरण के दौरान पहले चरण में बूथों पर न पहुंचने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को अंतिम मौका दिया जा रहा है। ऐसे कर्मियों के लिए 15 फरवरी को मापअप राउंड चलेगा। जिन कर्मियों ने पहले चरण के दौरान आयोजित छह दिवसों में टीके नहीं लगवाए, वे मापअप राउंड में पहुंचकर सुरक्षा कवच पहन सकते हैं। जो कर्मचारी मापअप राउंड में टीका लगने से वंचित रह गए, उन्हें पुनः मौका नहीं मिलेगा। स्वास्थ्य विभाग ने सभी को सूचना देनी शुरू कर दी है। 

17434 को बुलाया, 9461 ही पहुंचे 

जिले में पहले चरण के अंतर्गत छह बार टीकाकण सत्र लगाए गए। 16 जनवरी को 400 में से 281, 22 जनवरी को 2450 में से 1296, 28 को 3356 में से 2281, 29 को 5175 में से 2801, चार फरवरी को 3186 में से 1719 व पांच फरवरी को 2267 में से 1083 स्वास्थ्य कर्मियों व आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने ही टीके लगवाए। इस तरह कुल 17 हजार 434 में से मात्र 9461 (54.26 फीसद) ने ही टीके लगवाए। 

इस बार चूके तो फिर मौका गया 

कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण ही सबसे बेहतर माध्यम है। इसलिए भारत समेत हर देश टीकाकरण की कवायद में जुटा है। सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों व आंगनबाड़ी कर्मियों को मौका दिया गया। आम आदमी भले ही टीके को लेकर उत्साहित हो, मगर इन कर्मियों ने ही टीकाकरण में ज्यादा रूचि नहीं दिखाई।  पहले चरण में जो कर्मचारी जानबूझकर या अन्य कारणों से टीका लगवाने बूथों पर नहीं पहुंचे। उनके लिए मापअप राउंड में टीका लगवाने का अंतिम मौका होगा। यदि इस राउंड में भी वे टीका नहीं लगवा पाए तो फिर उन्हें आम आदमी की तरह रजिस्ट्रेशन कराकर टीका लगवाने के लिए इंतजार करना होगा। यदि आम आदमी के लिए टीका निश्शुल्क नहीं हुआ तो इन कर्मियों को भी जेब हल्की करनी पड़ेगी। 

यह चिंता की बात है कि स्वास्थ्य कर्मियों ने टीके नहीं लगवाए। हालांकि, यह टीका सभी के लिए एच्छिक है, लेकिन वायरस से बचाव व संक्रमण को रोकने के लिए स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगना बहुत जरूरी है। इसलिए सभी से अपील है कि मापअप राउंड में आकर टीका जरूर लगवाएं।