मसूरी समेत चार धाम की चोटियों पर हिमपात, देहरादून में बूंदाबांदी से बढ़ी ठंड

उत्‍तरकाशी जनपद के हर्षिल घाटी में बर्फबारी का दृश्य।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार उत्तराखंड में मौसम ने करवट बदल ली। बादलों के डेरा डालने के बाद प्रदेश के मैदानी इलाकों में बारिश और चारधाम समेत आसपास की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई। चार धाम में देर रात तक बर्फबारी जारी रही।

देहरादून।  मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार उत्तराखंड में मौसम ने करवट बदल ली। बादलों के डेरा डालने के बाद प्रदेश के मैदानी इलाकों में बारिश और चारधाम समेत आसपास की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई। उत्तरकाशी में गंगोत्री राजमार्ग सुकी के बाद बर्फबारी के चलते अवरुद्ध हो गया है। कहीं-कहीं ओलावृष्टि की भी सूचना है। 

वहीं, पहाड़ों की रानी मसूरी में बर्फ की फुहारें गिरी, जबकि पर्यटक स्‍थल धनोल्‍टी में बर्फबारी हुई। इससे ठंड बढ़ गई है। मौसम विभाग के अनुसार अभी अगले दो दिन मौसम का मिजाज बदला रहेगा। इस दौरान देहरादून और हरिद्वार समेत आसपास के इलाकों में बारिश व ओलावृष्टि हो सकती है। वहीं, पर्वतीय क्षेत्रों में चोटियों पर हल्का हिमपात होने के आसार हैं।

प्रदेश के अधिकांश इलाकों में पिछले कुछ दिन से चटख धूप खिल रही थी। दिन में अधिकतम तापमान बढ़ने से ठंड का अहसास कम होने लगा था। अब मौसम के अचानक करवट बदलने से दिन के तापमान में गिरावट आ गई है। बीते रोज बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के साथ ही हर्षिल, चोपता, हेमकुंड साहिब समेत आसपास की चोटियों पर दोपहर बाद हिमपात का सिलसिला शुरू हो गया, जो देर शाम तक चलता रहा। वहीं, देहरादून व हरिद्वार समेत अन्य मैदानी इलाकों में बौछारें पड़ने से ठंड बढ़ गई।

मसूरी में हल्की बारिश के बाद बर्फ की फुहारों ने सैलानियों को रोमांचित कर दिया। वहीं, धनोल्टी और आसपास के क्षेत्र में भी शाम को ओलावृष्टि होने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि गुरुवार और शुक्रवार को भी प्रदेश में बारिश व बर्फबारी के आसार हैं। इसके अलावा हरिद्वार, देहरादून, टिहरी, पौड़ी, नैनीताल और ऊधमसिंह नगर में ओलावृष्टि को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान तापमान में भी गिरावट आ सकती है।