संसद में निर्मला सीतारमण ने राहुल गांधी को बताया, भारत के लिए प्रलय की बात करने वाला व्यक्ति

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और कांग्रेस नेता राहुल गांधी की फाइल फोटो

लोकसभा में चर्चा के दौरान निर्मला सीतारमण ने राहुल गांधी पर झूठ बोलने का आरोप लगाया और उन्हें डूम्सडे मैन ऑफ इंडिया (भारत के लिए प्रलय की बात करने वाला व्यक्ति) कह कर संबोधित किया। राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि वो फर्जी विमर्श गढ़ते हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर जमकर पलटवार किया। लोकसभा में चर्चा के दौरान निर्मला सीतारमण ने राहुल गांधी पर झूठ बोलने का आरोप लगाया और उन्हें 'डूम्सडे मैन ऑफ इंडिया ' (भारत के लिए प्रलय की बात करने वाला व्यक्ति) कह कर संबोधित किया। राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि वो फर्जी विमर्श गढ़ते हैं और हमेशा ही देश को तोड़ने वाली ताकतों के साथ खड़े होते हैं और संवैधानिक संस्थाओं का अपमान करते हैं। 

वित्त मंत्री ने कहा कि पिछले दिनों सदन में जब राहुल गांधी बोल रहे थे तो उस वक्त उन्हें उनसे दस उम्मीदें थी, लेकिन राहुल ने किसी का जवाब नहीं दिया। निर्मला सीतारमण ने कहा कि वो हमेशा देश को नीचा दिखाने के लिए गलत बयानबाजी करते हैं और राष्ट्र के संवैधानिक प्रमुखों को लगातार असभ्य बोल रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि विपक्ष का नेतृत्व 'डूमसडे मैन' के नेतृत्व में किया जा रहा है।

राष्ट्र का भरोसा न करके भारत का कर रहे अपमान

सीतारमण ने आगे कहा कि कांग्रेस नेता लगातार राष्ट्र का 'भरोसा' न करके भारत का अपमान करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुझे याद है कि उन्होंने कोरोना महामारी के बारे में क्या कहा था। मैं उनकी बात को दोहराकर सदन का समय बर्बाद नहीं करना चाहती। लेकिन वे देश का विश्वास नहीं कर हमेशा देश का अपमान करते रहते हैं। 

राहुल ने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का भी किया था अपमान

राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि वो हमेशा ही प्रधानमंत्री का अपमान करते आए हैं। फिर चाहे वो पीएम मोदी हो या यूपीए के दौरान मनमोहन सिंह। उन्होंने कहा कि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह जब विदेश गए थे तो राहुल गांधी ने उनकी ओर से लाए गए अध्यादेश को फाड़कर उनका अपमान किया था।

बता दें कि इससे पहले गुरुवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लोकसभा में केंद्रीय बजट पर चर्चा में भाग लेते हुए मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला था। उन्होंने अपने भाषण में 'हम दो और हमारे दो' की सरकार बताया था। राहुल गांधी ने सरकार पर 'क्रोनी कैपिटलिज्म' को बढ़ावा देने का आरोप लगाया था।