ममता के भतीजे के घर पहुंची सीबीआई टीम, कोयला तस्करी कांड में अभिषेक बनर्जी की पत्नी को नोटिस

 

अभिषेक बनर्जी के घर पहुंची सीबीआई टीम

 मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सांसद भतीजे व युवा तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष अभिषेक बनर्जी की पत्नी रूजिरा बनर्जी को नोटिस जारी किया है। रुजिरा को सीबीआइ के निजाम पैलेस स्थित दफ्तर में तलब नहीं किया गया है बल्कि उनसे उनके आवास पर ही पूछताछ की जाएगी।

कोलकाता, राज्य ब्यूरो। अवैध कोयला खनन व तस्करी मामले की जांच में जुटी सीबीआइ ने रविवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सांसद भतीजे व युवा तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष अभिषेक बनर्जी की पत्नी रूजिरा बनर्जी को नोटिस जारी किया है। रविवार दोपहर सीबीआइ के अधिकारी कालीघाट इलाके में स्थित अभिषेक बनर्जी के आवास शांतिनिकेतन पर पहुंचे हैं। बताया गया है कि सीबीआइ यह नोटिस उनकी पत्नी रूजिरा के नाम पर है। खबर मिली है कि अभिषेक और उनकी पत्नी इस समय अपने आवास पर नहीं है। सीबीआइ सूत्रों के मुताबिक, अभिषेेेक की पत्नी को सीआरपीसी की धारा 160 के तहत गवाह के रूप में बयन दर्ज करने के लिए नोटिस जारी किया गया है।

खबर है कि कोयला कांड में आर्थिक लेनदेने में कुछ अहम जानकारी सीबीआइ को मिली है जिसमें रूजिरा का नाम भी सामने आया है। उसी बात की जानकारी के लिए सीबीआइ रूजिरा बनर्जी से पूछताछ करना चाहती है। उन्हें सीबीआइ दफ्तर में हाजिर नहीं होना है। उनके आवास पर ही उनकी सहूलियत के मुताबिक सीबीआइ उनसे बातचीत कर उनका बयान दर्ज करना चाहती है। कोयला तस्करी व गो तस्करी के मामले में तृणमूल नेता विनय मिश्रा को तलाश रही है। विनय मिश्रा के बारे में कहा जाता है कि वह अभिषेक के करीबी हैं। इस समय विनय फरार है। वहींं कोयला तस्करी मामले के मुख्य आरोपित अनूप माजी उर्फ लाल भी फरार है। सीबीआइ के नोटिस को लेकर तृणमूल नेता व प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि यह राजनीतिक साजिश है और नारद से लेकर अन्य मामले में भाजपा नेता शोभन देव, सुवेंदु अधिकारी, मुकुल रॉय समेत अन्य को सीबीआइ नहीं पकड़ रही है लेकिन अभिषेक के घर पर नोटिस दिया जा रहा है।

अभिषेक ने ट्वीट करके कहा-' सीबीआइ ने मेरी पत्नी को नोटिस जारी किया है। हमें न्यायिक व्यवस्था पर पूरा यकीन है लेकिन अगर वे यह समझते हैं कि ऐसे हथकंडे अपनाकर वे हमें डरा सकते हैं तो वे गलती कर रहे हैं। हम उनके सामने झुकने वाले नहीं हैं।'