दिल्ली, यूपी सहित इन राज्यों में खुलने जा रहे स्कूल-कॉलेज, इन बातों का रखना होगा ध्यान

 

विभिन्न राज्यों में स्कूल- कॉलेज खोले जा रहे हैं। (फाइल फोटो)

गुजरात हरियाणा पंजाब और आंध्र प्रदेश समेत 10 राज्यों में एक फरवरी से स्कूल खोल दिए गए हैं। वहीं अब दिल्ली यूपी राजस्थान पश्चिम बंगाल महाराष्ट्र और ओडिशा में भी फरवरी माह से स्कूलों को फिर से खोलने की तैयारी है।

नई दिल्ली, एजेंसी। देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार जैसे- जैसे थम रही है, वैसे ही विभिन्न राज्यों में स्कूल- कॉलेज खोले जा रहे हैं। गुजरात, हरियाणा, पंजाब और आंध्र प्रदेश समेत 10 राज्यों में एक फरवरी से स्कूल खोल दिए गए हैं। वहीं, अब दिल्ली, यूपी, राजस्थान, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और ओडिशा में भी फरवरी माह से स्कूलों को फिर से खोलने की तैयारी है। आइए जानतें है किस राज्य में कब से खुल रहे हैं स्कूल...

दिल्ली में 5 फरवरी से खुलेंगी 9वीं और 11वीं की कक्षाएं

दिल्ली में 10वीं और 12वीं की कक्षाएं खुलने के बाद अब 9वीं और 11वीं की कक्षाएं खोलने का ऐलान हो गया है। शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि 5 फरवरी से 9वीं और 11वीं कक्षाओं के लिए स्कूल खोले जाएंगे। उन्होंने डिग्री, पॉलिटेक्निक और आईटीआई संस्थाओं को भी खोलने की घोषणा की है। सिसोदिया ने अधिकारियों को कोरोना से सभी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और पूरे परिसर में सफाई के बेहतर इंतजाम का निर्देश दिया। शिक्षा मंत्री ने कहा कि 10 महीने तक स्कूल और कॉलेज बंद होने के बाद अब उन्हें परीक्षाओं और प्रैक्टिकल की तैयारियों के लिए खोला जा रहा है, इसलिए स्कूलों और कॉलेजों को दोबारा खोलने संबंधी पूरी व्यवस्था करना जरूरी है। उन्होंने अधिकारियों को स्कूलों व कॉलेजों में जाकर कोरोना से बचाव के सभी नियमों का पालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। कहा कि हर क्लास में शारीरिक दूरी का पालन किया जाए। सैनिटाइजर की उपलब्धता हो। मास्क लगाना जरूरी हो।

यूपी में 12 फरवरी से खुल सकते हैं 6वीं से 12वीं तक के स्‍कूल

सीएम योगी आदित्यनाथ ने स्कूल खोलने का निर्देश भी नए सिरे से जारी कर दिया है। मुख्यमंत्री ने मंगलवार को अपने सरकारी आवास पर कोविड अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा में दस दिन में कक्षा छह से 12 तक के स्कूल खोलने की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री का रुख देखकर माना जा रहा है कि 12 फरवरी से उत्तर प्रदेश में सभी स्कूल खुल जाएंगे। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से प्रदेश के स्कूलों में बंद चल रही पढ़ाई अब सरकार शुरू करने जा रही है। मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार स्कूलों में कक्षा छह से आठ तक की पढ़ाई फिर शुरू कराने पर विचार करने को कहा है। मुख्यमंत्री ने पढ़ाई शुरू करने से पहले अधिकारियों को कोरोना संक्रमण की स्थिति का आकलन करने के निर्देश दिए हैं।

पश्चिम बंगाल में 12 फरवरी से खुलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्‍कूल 

पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने घोषणा की कि राज्य के स्कूल 12 फरवरी को कक्षा 9 से 12 तक के लिए फिर से खुलेंगे. कोविड-19 महामारी के कारण 16 मार्च से बंद चल रहे स्‍कूल 10 महीने बाद फिर से खुलेंगे कई अन्य राज्य भी आवश्यक सेफ्टी गाइडलाइन का पालन करते हुए इस महीने स्कूलों को फिर से खोल रहे हैं. यह निर्णय लिया गया है कि स्कूल प्रशासन इस बात पर भी नजर रखेगा कि वे मानक संचालन प्रक्रियाओं को कितनी अच्छी तरह लागू कर रहे हैं और उसका पालन कर रहे हैं। शिक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि स्कूलों को पूरी तरह से सेन‍िटाइज किया जा रहा है, इसलिए छात्रों और शिक्षकों को वायरस फैलने का खतरा नहीं है। कक्षाओं में भाग लेने के लिए माता-पिता की सहमति अनिवार्य होगी। साथ ही, छात्रों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं है।

महाराष्ट्र में 15 फरवरी से खुलेंगे यूनिवर्सिटी और कॉलेज 

कोरोना के मामलों में आई कमी को देखते हुए उद्धव सरकार ने बड़ा फैसला किया है। महाराष्ट्र में 15 फरवरी से विश्वविद्यालय और कॉलेज फिर से खोलने की इजाजत दे दी गई है। हालांकि विवि और कॉलेज कुछ शर्तों के साथ खोले जाएंगे। शिक्षा मंत्री के मुताबिक, रोटेशनल बेसिस पर 50 फीसद उपस्थिति के साथ ये आदेश दिया गया है। 

कोरोना के मामलों में कमी को देखते हुए देश के अध‍िकतर राज्‍य 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा देने जा रहे छात्रों के लिए स्‍कूल खोल रहे हैं। कक्षाओं में कोरोना संक्रमण संबंधी सावधानियों को पूरी तरह अपनाया जा रहा है। स्‍टाफ और बच्‍चों को शारीरिक दूरी और कोविड-19 के नियमों का सख्‍ती से पालन करना होगा। छात्र-छात्राएं केवल अभिभावकों की स्‍वीकृति पत्र के साथ ही स्‍कूल में एंट्री पा सकेंगे।