गुजरात में नगरपालिका, जिला और तालुका पंचायतों के लिए मतदान जारी

 

गुजरात में आज नगरपालिका, ज़िला और तालुका पंचायतों के लिए मतदान जारी, तस्वीरें वडोदरा के एक मतदान केंद्र से।

राज्य के 54500 होमगार्ड भी स्थानीय निकाय चुनाव संपन्न घर आने में नियुक्त किए गए हैं। इस चुनाव में 23932 मतदान केंद्रों पर राज्य के करीब तीन करोड़ मतदाता आज अपने मतदान के अधिकार का उपयोग कर सकेंगे।

अहमदाबाद,  संवाददाता। गुजरात में रविवार को 81 नगरपालिका 31 जिला पंचायत तथा 231 तहसील पंचायत के 22174 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में सील हो जाएगा। गुजरात के 23932 मतदान केंद्रों पर स्थानीय निकाय चुनाव के लिए मतगणना जारी है, 6 महानगरों की अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों में मतदान को लेकर काफी उत्सुकता है। शहरों की अपेक्षा ग्रामीण गुजरात में मतदान का प्रतिशत अच्छा देखा जा रहा है। पोरबंदर में भाजपा के सांसद रमेश धडूक ने मतदान किया। उप मुख्यमंत्री नितिन भाई पटेल मेहसाणा जिले के कडी गांव में मतदान करने पहुंचे। शुरुआती 3 घंटे में ही औसत मतदान 10 से 12 प्रतिशत दर्ज किया गया।

चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार जिला पंचायत, तहसील पंचायत व नगर पालिका चुनाव में औसत 40 प्रतिशत मतदान हुआ है। सबसे अधिक डांग जिले में 56 फीसदी मतदान हुआ है। गांधीनगर में 42 प्रतिशत, अहमदाबाद जिला में 31 प्रतिशत मतदान हुआ है। गुजरात के आदिवासी बहुल क्षेत्रों में बंपर मतदान हुआ है। शुरुआती 4 घंटे में गुजरात में कौशल मतदान 17 प्रतिशत हो चुका है। सौराष्ट्र सहित कई  ग्रामीण क्षेत्रों में मतदान को लेकर भारी उत्साह है। गुजरात में औसत मतदान 20 प्रतिशत के पार है। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं गुजरात कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने मतदान किया। महीसागर के मालतलावडी गांव के लोगों ने मतदान केंद्र के पांच किलोमीटर दूर ले जाने के विरोध में मतदान का बहिष्कार किया। 

चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार

नगरपालिका-  10.55

जिला पंचायत - 9.17 

तहसील पंचायत- 10.32

स्थानीय निकाय चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए राज्य भर में करीब एक लाख पुलिस तथा अर्द्ध सैनिकबलों के जवान तैनात किए गए। पुलिस ने बेरोकटोक तथा शांतिपूर्ण तरीके से मतदान कराने के लिए राज्य भर में करीब एक लाख 80000 असामाजिक तत्व को पाबंद किया है वही करीब 50,000 लाइसेंस शुदा हथियारों को चुनाव से पहले जमा करा लिया है। 

पुलिस ने चुनाव में बाधा पहुंचाने वाले 22891 लोगों को वारंट जारी कर चेताया है। राज्य भर में शांतिवन पूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न कराने के लिए पुलिस ने 10 फरवरी से 28 फरवरी तक एक बड़ा अभियान चलाकर 30 करोड़ 35 लाख रुपए की अवैध शराब नकदी तथा वाहन जप्त किए हैं। राज्य के पुलिस महानिदेशक आशीष भाटिया ने बताया है कि इस चुनाव में सुरक्षा व्यवस्था के लिए चुनाव क्षेत्र वाले राज्य पुलिस थानों का 80 फ़ीसदी पुलिसकर्मी चुनाव सुरक्षा में लगाया गया है।

एसआरपी की 64 तथा अर्धसैनिक बलों की 12 बटालियन के अलावा करीब ढाई हजार पुलिस मोबाइल टीमें तथा 500 क्विक रिस्पांस टीम इस चुनाव में नियुक्त की गई है। राज्य के 54500 होमगार्ड भी स्थानीय निकाय चुनाव संपन्न घर आने में नियुक्त किए गए हैं। इस चुनाव में 23932 मतदान केंद्रों पर राज्य के करीब तीन करोड़ मतदाता आज अपने मतदान के अधिकार का उपयोग कर सकेंगे।