बारबाडोस और डोमिनिका पहुंचे 'मेड इन इंडिया' टीके, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दी जानकारी

 

बारबाडोस और डोमिनिका पहुंचे 'मेड इन इंडिया' टीके, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दी जानकारी
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने हैशटैग वैक्सीन मैत्री जारी है के साथ ट्वीट कर बताया था कि भारत द्वारा निर्मित कोविड वैक्सीन की खेप बारबाडोस और राष्ट्रंमडल देश डोमिनिका को भेजा गया है। भारत में बने टीकों को अन्य देशों में भेजा जा रहा है।

नई दिल्ली, एजेंसी। भारत में अब कोरोना वायरस के लगातार कम होते मामलों से यह कहना सही होगा कि देश ने महामारी को अब पीछे छोड़ दिया है। यहां दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चालू है। 62 लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगाया जा चुका है। वहीं, भारत में बने टीकों को भी अन्य देशों में भेजा जा रहा है। पहले कई पड़ोसी देशों को भारत निर्मित टीके दिए जा चुके हैं। अब मेड इन इंडिया' टीके बारबाडोस और डोमिनिका भी पहुंच गए हैं। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी।  

हाल ही में वैक्सीन मैत्री अभियान के तहत भारत ने अफगानिस्तान को टीके उपलब्ध कराए थे।...और उसी दौरान बताया गया था कि कैरेबियाई देश बारबाडोस और डोमिनिका को भी कोरोना वैक्सीन की पहली खेप भेजी है। अफग़ानिस्तान को जहां एयर इंडिया के विमान से रविवार को एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की पांच लाख खुराक मुंबई से दिल्ली फिर काबुल भेजी गई। वहीं कैरेबियाई देश बारबाडोस और डोमिनिका को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित कोविडशील्ड वैक्सीन की एक-एक खेप आज भेजी गई।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने 'हैशटैग वैक्सीन मैत्री जारी है' के साथ ट्वीट कर बताया था कि भारत द्वारा निर्मित कोविड वैक्सीन की खेप बारबाडोस और राष्ट्रंमडल देश डोमिनिका को भेजा गया है।' कैरेबियाई देश बारबाडोस को कोरोना रोधी वैक्सीन की एक लाख खुराक दी गई है।

भारत अभी तक नेपाल, बांग्लादेश, भूटान, मालदीव, सेशल्स, म्यांमार और मॉरीशस को कोरोना टीकों की खेप भेज चुका है। इतना ही नहीं सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील और मोरक्को सहित कई देशों को भी कोरोना वैक्सीन की आपूर्ति कर रहा है।