इस चोर की अजब कहानी, जानिए अपनी गर्लफ्रेंड का कौन सा शौक पूरा करने के लिए करता था नई गाड़ी की चोरी

 


आरोपित की निशानदेही पर पुलिस ने तीन स्कूटी व एक मोटरसाइकिल बरामद किए हैं।

दक्षिण पश्चिम जिला पुलिस के वाहन चोरी निरोधक दस्ते ने वाहन चोरी के आरोपित प्रवेश को गिरफ्तार किया है। आरोपित अपनी महिला मित्र के साथ सैर सपाटे पर जाने के लिए नई नई मोटरसाइकिल या स्कूटी की चोरी करता था।

संवाददाता, पश्चिमी दिल्ली। दक्षिण पश्चिम जिला पुलिस के वाहन चोरी निरोधक दस्ते ने वाहन चोरी के आरोपित प्रवेश को गिरफ्तार किया है। आरोपित अपनी महिला मित्र के साथ सैर सपाटे पर जाने के लिए नई नई मोटरसाइकिल या स्कूटी की चोरी करता था। बाद में जब स्कूटी या मोटरसाइकिल में पेट्रोल खत्म हो जाता तो वह उसे कहीं भी छोड़कर फरार हो जाता था। आरोपित की निशानदेही पर पुलिस ने तीन स्कूटी व एक मोटरसाइकिल बरामद किए हैं।

दक्षिण पश्चिम जिला पुलिस उपायुक्त इंगित प्रताप सिंह ने बताया कि इंस्पेक्टर राजेश मलिक के नेतृत्व में गठित टीम को आरोपित के बारे में जानकारी मिली थी। पुलिस को पता चला था कि आरोपित सागरपुर इलाके में आना वाला है। तब पुलिस ने आरोपित को तब दबोचा जब वह स्कूटी पर सवार होकर इलाके में आया। यह स्कूटी जनकपुरी इलाके से चुराई गई थी। मामले की तहकीकात जारी है। 

उधर द्वारका जिला में मोबाइल झपटमारी व चोरी की बढ़ रही घटनाओं के बीच पुलिस इन मामलों के आरोपित को भी दबोच रही है। बिंदापुर थाना पुलिस ने ऐसे ही दो मामलों में दो मोबाइल बरामद किए हैं। दोनों मामलों में पुलिस ने इन मोाबाइल का इस्तेमाल कर रहे आरोपितों को गिरफ्तार किया है। इनमें एक महिला भी शामिल है। उधर छावला थाना पुलिस ने वाहन चोरी के एक मामले को सुलझाते हुए न सिर्फ चुराई गई स्कूटी बरामद की बल्कि आरोपित को भी दबोचा।

पुलिस ने आरोपित को तब दबोचा जब वह चुराई गई स्कूटी से कहीं जा रहा था। रास्ते में पुलिसकर्मियों ने उसे रोका और वाहन के कागजात दिखाने को कहा। लेकिन आरोपित कोई कागजात नहीं दिखा सका। छानबीन में पता चला कि स्कूटी डाबड़ी इलाके से चुराई गई है। पूछताछ में पुलिस को पता चला कि आरोपित का नाम नेम सिंह है।