दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने से पहले पढ़ लें यह खबर

हाल ही में इलेक्ट्रिक वाहन नीति को लांच किया गया है।

 दिल्ली में दोपहिया और तिपहिया वाहन की खरीदारी करने वालों को गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनी और दिल्ली वित्तीय निगम की सूची में सम्मिलित वित्त प्रदाता से ऋण पर पांच फीसद ब्याज की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

नई दिल्ली । अगर आप दिल्ली के निवासी हैं और पर्यावरण के अनूकुल वाहनों को खरीदने की सोच रहे हैं तो यह खबर आपके बेहद काम की है। आप दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन खरीद रहे हैं तो दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार तो बड़ी राहत देने का एलान कर चुकी है। दरअसल, दिल्ली सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से जुट गई है। इसके तहत 'स्विच अभियान' को प्रभावी बनाने के लिए सरकार ने कमर कस ली है। इस दिशा में सरकार दोपहिया और तिपहिया इलेक्ट्रिक वाहन की खरीदने वाले को ऋण उपलब्ध कराने में भी मदद करेगी। जो लोग ऋण लेंगे उन पर लगने वाले ब्याज में पांच फीसद की सरकार आर्थिक मदद देगी।

इस संबंध में दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत  ने परिवहन विभाग सहित कई दूसरे वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक ली। इसके बाद कैलाश गहलोत ट्वीट करते हुए बुधवार को जानकारी दी कि हाल ही में इलेक्ट्रिक वाहन नीति को लांच किया गया है। हमारा लक्ष्य है कि हर आम आदमी तक इलेक्ट्रिक वाहन की पहुंच हो। इसके लिए जल्द दोपहिया और तिपहिया वाहन की खरीदारी करने वालों को गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनी और दिल्ली वित्तीय निगम की सूची में सम्मिलित वित्त प्रदाता से ऋण पर पांच फीसद ब्याज की आर्थिक सहायता दी जाएगी। उन्होंने कहा है कि ऋण लेने की प्रक्रिया को भी लचीला बनाया जाएगा।

बता दें कि दिल्ली में चार पहिया वाहनों की खरीद पर अधिकत 1.50 लाख रुपये सब्सिडी का एलान किया गया है। वहीं, रजिस्ट्रेशन फीस भी नहीं ली जा रही है। ऐसा लोगों को इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के लिए प्रेरित करने के मकसद से किया गया है। दरअसल, हर साल दिल्ली में अक्टूबर से लेकर मार्च तक वायुू प्रदूषण खराब श्रेणी में ही रहता है। यह खासतौर से बुजुर्गों और बच्चों के लिए ज्यादा खतरनाक साबित हो रहा है। इस पर लगाम लगाने के लिए दिल्ली सरकार ने नए लाभ के एलान किए हैं।