कल से कांग्रेस का कैंपेन शुरू करेंगी प्रियंका गांधी वाड्रा, दो दिनों का होगा दौरा

 

कल से असम दौरे पर कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा। (फोटो: दैनिक जागरण)
Publish Date:Sun, 28 Feb 2021 02:57 PM (IST)Author: Shashank Pandey

Assam Assembly Elections असम में चुनावों की घोषणा के साथ ही अब कांग्रेस तैयारियों में जुट गई है। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा(Priyanka Gandhi Vadra)कल से दो दिनों के असम दौरे पर रहेंगी। इस दौरान वह चुनाव प्रचार करेंगी।

नई दिल्ली, एजेंसियां।  कांग्रेस असम में चुनाव के मद्देनजर तैयारियों में जुट गई है। इसके मद्देनजर कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्राकल से दो दिनों के असम दौरे पर रहेंगी और इस दौरान पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करेंगी। असम में कांग्रेस के नेतृत्व वाला गठबंधन सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ चुनाव लड़ रहा है। उनके कार्यालय ने बताया कि प्रियंका गांधी वाड्रा 1 और 2 मार्च को चुनाव प्रचार के लिए असम में होंगी। वह 1 मार्च से दो दिनों के लिए राज्य का दौरा करेंगी। कांग्रेस पार्टी ने प्रियंका गांधी की यात्रा के पहले दिन विभिन्न सहभागिता कार्यक्रमों की योजना बनाई है। इसके बाद वह 2 मार्च को असम के तेजपुर शहर में एक रैली को संबोधित करेंगी।

पहले दिन का कार्यक्रम

पहले दिन यानि 1 मार्च तो प्रियंका गांधी असम के गुवाहाटी के कामाख्या मंदिर में प्रार्थना करेंगी और एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेंगी। उसके बाद वह पार्टी पदाधिकारियों को संबोधित करने के लिए उत्तरी लखीमपुर जिले के सोनारी गाँव पंचायत का दौरा करेंगे, और लखीमपुर में बेरोजगार युवाओं के लिए एक राज्यव्यापी विरोध अभियान भी शुरू करेंगे। दिन के दौरान वह माधवदेव जनमस्थान और रंगजान भी जाएंगी और वह गोहपुर में कनकलता बरुआ की प्रतिमा पर श्रद्धांजलि अर्पित करेंगी।

दूसरे दिन का कार्यक्रम

दूसरे दिन यानि 2 मार्च को प्रियंका सदरु चाय एस्टेट में महिला मजदूरों के साथ बातचीत करेंगी। वह तेजपुर में महाभैरव मंदिर में भी प्रार्थना करेंगे और बाद में एक रैली को संबोधित करेंगे।

सूत्रों का कहना है कि प्रियंका गांधी जो अब तक उत्तर प्रदेश तक ही सीमित रही हैं, अब पूरी तरह से अभियान की होड़ में हैं और केरल, पुदुचेरी और पश्चिम बंगाल की यात्रा भी करेंगी। इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने असम का दौरा किया था और एक रैली को संबोधित किया था जिसमें उन्होंने संदेश दिया था कि नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को कांग्रेस पार्टी की तरफ से मुख्य एजेंडा के रूप में रेखांकित किया जाएगा।