भारत-चीन के रिश्तों में घुली तल्खी में आई नरमी, पैंगोंग झील से दोनों देशों की सेनाओं की हो रही वापसी

एलएसी पर दोनों देशों के बीच नरमी संकेत

मंगलवार को दोनों देशों के बीच संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के भावी एजेंडे पर एक अहम बैठक हुई थी। मई 2020 में चीनी सैनिकों की घुसपैठ के बाद दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सहयोग को लेकर होने वाली सभी बैठकें रद कर दी गई थी।

बीजिंग, एएनआइ। एलएसी पर भारत और चीन के बीच तनाव घटने के संकेत मिलने लगे हैं। बुधवार को चीन के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि पैंगोंग झील से दोनों देशों की सेनाओं की वापसी शुरू हो गई है। मंगलवार को दोनों देशों के बीच यूनाइटेड नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल एजेंडा पर बैठक हुई थी। हालांकि चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल वू कियान और चीन की आधिकारिक मीडिया द्वारा किए गए बयान पर भारतीय पक्ष की ओर से कोई टिप्पणी नहीं की गई है।वू कियान ने एक बयान में कहा कि चीन और भारत के बीच कमांडर-स्तरीय वार्ता के नौवें दौर में पहुंची सर्वसम्मति के अनुसार, चीनी और भारतीय सशस्त्र बलों की अग्रिम इकाइयों ने 10 फरवरी से पैंगोंग झील के उत्तर और दक्षिण बैंक से विघटन शुरू कर दिया है।बता दें कि मंगलवार को दोनों देशों के बीच संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के भावी एजेंडे पर एक अहम बैठक हुई थी। मई, 2020 में चीनी सैनिकों की घुसपैठ के बाद दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सहयोग को लेकर होने वाली सभी बैठकें रद कर दी गई थी।