स्वच्छ ऊर्जा प्रदान करने में पीएम मोदी के प्रयासों की बाइडन के विशेष दूत केरी ने की तारीफ

 

जलवायु परिवर्तन पर भारतीय नेतृत्व के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं।

 के शीर्ष अधिकारी ने जलवायु परिवर्तन के कारण पैदा हो रही चुनौतियों से निपटने की प्रतिबद्धता को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है। बाइडन के विशेष दूत जॉन केरी ने कहा कि भारतीय नेतृत्व के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं।

वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिका के शीर्ष अधिकारी जॉन केरी ने जलवायु परिवर्तन के कारण पैदा हो रही चुनौतियों से निपटने की प्रतिबद्धता को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है। साथ ही उन्होंने कहा है कि भारत ने स्वच्छ ऊर्जा का इस्तेमाल करना शुरू किया है, जो निवेश के बड़े अवसर प्रदान करता है।

भारतीय नेतृत्व के साथ बाइडन के विशेष दूत जलवायु परिवर्तन पर करना चाहते हैं काम

जलवायु परिवर्तन से निपटने संबंधी मामलों के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन के विशेष दूत जॉन केरी ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर समेत भारतीय नेतृत्व के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं।

स्वच्छ ऊर्जा: केरी ने कहा- जलवायु परिवर्तन से निपटने में भारत प्रमुख देशों में शामिल

उन्होंने कहा, 'हमारा मानना है कि भारत जलवायु परिवर्तन से निपटने की कोशिश में स्वच्छ ऊर्जा को अपना रहे सबसे प्रमुख देशों में शामिल हैं। जिस तरह हमने पिछले कई वर्षो में कई मामलों पर निकटता से काम किया है, ठीक उसी तरह दोनों देशों को जलवायु परिवर्तन से निपटने और हमारे वैश्विक नेतृत्व के हाथ मिलाने से लाभ होगा।'

केरी ने कहा- भारत ने स्वच्छ ऊर्जा का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया

विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन 2021 को संबोधित करते हुए केरी ने कहा, 'भारत ने स्वच्छ ऊर्जा का इस्तेमाल करना शुरू किया है, जो निवेश के बड़े अवसर प्रदान करता है।' पद ग्रहण करने के बाद केरी पहली बार सुरक्षा परिषद आए थे।

भारत जलवायु परिवर्तन की चुनौती से निपटने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध

भारत जाने की इच्छा जताते हुए केरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस वार्ता में अहम भूमिका निभाई है। कहने की जरूरत नहीं कि भारत जलवायु परिवर्तन की चुनौती से निपटने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है।