बजट सत्र में पीएम मोदी के बोलने के बाद लोकसभा में आज अपनी बात रखेंगे कांग्रेस नेता राहुल गांधी


कांग्रेस नेता राहुल गांधी की फाइल फोटो

राष्ट्रपति के भाषण पर पीएम मोदी ने कृषि कानूनों से जुड़े सभी सवालों के जवाब दिए थे। इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर भी कई कटाक्ष किए। सदन में पीएम मोदी के भाषण के बाद अब बुधवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी लोकसभा में अपनी बात रखने वाले हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ। सोमवार को बजट सत्र के दौरान राष्ट्रपति के भाषण पर पीएम मोदी ने कृषि कानूनों से जुड़े सभी सवालों के जवाब दिए थे। इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर भी कई कटाक्ष किए। सदन में पीएम मोदी के भाषण के बाद अब बुधवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी लोकसभा में अपनी बात रखने वाले हैं। बुधवार को लोकसभा में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी राष्ट्रपति के अभिभाषण पर बोलेंगे। राहुल गांधी बजट सत्र की बहस के दौरान कांग्रेस के हमले का नेतृत्व करेंगे। ऐसे में सभी की नजरें सदन पर लगी हुई हैं।

बता दें कि राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव में विभिन्न दलों के सदस्यों द्वारा भागीदारी की अनुमति देने के लिए लोकसभा सोमवार और मंगलवार को देर से शुरू हो रही है।

गौरतलब है कि राहुल गांधी हर मोर्चे पर केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते रहे हैं। चाहे वह बजट को लेकर हो या किसानों से जुड़े मुद्दों को लेकर हो, भारत-चीन सीमा तनाव का मुद्दा हो, वह लगातार सरकार से सवाल पूछते रहे हैं। इससे पहले कांग्रेस नेता ने केंद्र सरकार पर केंद्रीय बजट में सैनिकों की पेंशन कम करने और राष्ट्र के किसानों और युवाओं की अनदेखी करने का आरोप लगाया था।

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर लगाए आरोप

00:00/02:31

वहीं, मंगलवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री के विकास मॉडल से सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (पीएसयू) की संख्या कम हो जाएगी और इससे देश को नुकसान होगा।

गांधी ने ट्वीट कर कहा कि मोदी की विकास सार्वजनिक उपक्रमों को आंकड़े एक से दसवें तक पहुंच गया है। जिसेस देश का नुकसान हुआ है और प्रधानमंत्री के करीबियों को लाभ हुआ है।

गौरतलब है कि राहुल गांधी हर मोर्चे पर केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते रहे हैं। चाहे वह बजट को लेकर हो या किसानों से जुड़े मुद्दों को लेकर हो, भारत-चीन सीमा तनाव का मुद्दा हो, वह लगातार सरकार से सवाल पूछते रहे हैं। इससे पहले कांग्रेस नेता ने केंद्र सरकार पर केंद्रीय बजट में सैनिकों की पेंशन कम करने और राष्ट्र के किसानों और युवाओं की अनदेखी करने का आरोप लगाया था।