जींद के पोल्ट्री फार्म में हल हो रहा था दिल्ली कोर्ट की ऑनलाइन भर्ती परीक्षा का पेपर, पुलिस का छापा

 

पुलिस ने यहां से कंप्यूटर, वाई फाई सहित दूसरे उपकरणों को कब्जे में ले लिया है। जांच जारी है।

गांव काकड़ौद व नचारखेड़ा के बीच में खेतों में बने पोल्ट्री फार्म पर पेपर हल किया जा रहा था। करीब साढ़े दस बजे दिल्ली पुलिस और उचाना थाना पुलिस की टीम ने यहां छापा मारा। पुलिस को देख पेपर हल कर रहे युवक फरार हो गए।

पानीपत/जींद,  दिल्ली कोर्ट के चपरासी पद पर भर्ती की परीक्षा का ऑनलाइन पेपर जींद में हल किया जा रहा था। सूचना पर दिल्ली व उचाना पुलिस की संयुक्त टीम ने रविवार सुबह गांव काकड़ौद व नचारखेड़ा के बीच में खेतों में बने पोल्ट्री फार्म पर छापेमारी की। पुलिस की छापेमारी होते ही यहां मौजूद युवक फरार हो गए। पुलिस ने यहां से कंप्यूटर, वाई फाई सहित दूसरे उपकरणों को कब्जे में ले लिया। 

दिल्ली जिला अदालत ने चपरासी, प्रोसेसर सहित दूसरे पदों के लिए पिछले दिनों आवेदन मांगे थे। रविवार को ऑनलाइन परीक्षा लेने के लिए दिल्ली में परीक्षा केंद्र बनाए हुए थे। दिल्ली पुलिस को इस दौरान भनक लगी कि परीक्षा का पेपर आउट हो गया है। जींद के उचाना थाना क्षेत्र के अंतर्गत गांव काकड़ौद व नचारखेड़ा के बीच में खेतों में बने पोल्ट्री फार्म पर पेपर हल किया जा रहा है। इस पर दिल्ली पुलिस की टीम करीब साढ़े दस बजे उचाना थाने पहुंची और वहां की पुलिस को साथ लेकर बताए गए स्थान पर छापा मारा। यहां पर नहर के साथ बने पोल्ट्री फार्म पर पेपर हल किया जा रहा था।

कंप्यूटर, वाई- फाई समेत अन्य उपकरण बरामद

पुलिस के पहुंचने की भनक लगते ही पेपर हल कर रहे लोग खेतों के रास्ते से फरार हो गए। पुलिस ने पोल्ट्री फार्म से कंप्यूटर, वाई- फाई सहित दूसरे उपकरण यहां से बरामद किए हैं। पुलिस अब यह पता लगाने में लगी हुई है कि पोल्ट्री फार्म किसका है और पेपर हल करने में कौन-कौन लोग शामिल हैं। उचाना थाना प्रभारी रविंद्र कुमार ने बताया कि परीक्षा का पेपर हल करने की सूचना पर छापेमारी की गई है। फिलहाल कार्रवाई जारी है। जांच के बाद पूरे मामले का खुलासा किया जाएगा।