कोरोना के स्रोत पर अगले हफ्ते रिपोर्ट देगा डब्ल्यूएचओ, पूरी जानकारी देने से चीन कर रहा है इन्कार

कोरोना के उत्पत्ति की जांच करने वुहान गई थी WHO की टीम

डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेबरेसर्स ने बताया कि चीन के वुहान शहर में की जा रही जांच महत्वपूर्ण है। हम सभी संभावनाओं को लेकर जांच कर रहे हैं। अगले सप्ताह टीम की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट आ जाएगी। इसके कुछ सप्ताह बाद पूरी जांच रिपोर्ट जारी कर दी जाएगी।

जेनेवा, एएनआइ। चीन में कोरोना के स्रोत की जांच करने गई विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की टीम अगले सप्ताह अपनी प्रारंभिक जांच रिपोर्ट देगी। फिलहाल टीम को चीन उन 174 प्रारंभिक मरीजों के डाटा देने में आनाकानी कर रहा है, जिनको दिसंबर माह में सबसे पहले कोरोना संक्रमण के लक्षण मिले थे।

डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेबरेसर्स ने बताया कि चीन के वुहान शहर में की जा रही जांच महत्वपूर्ण है। हम सभी संभावनाओं को लेकर जांच कर रहे हैं। अगले सप्ताह टीम की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट आ जाएगी। इसके कुछ सप्ताह बाद पूरी जांच रिपोर्ट जारी कर दी जाएगी।

उन्होंने यह भी संकेत दिया है कि जांच दल सभी प्रश्नों के उत्तर नहीं खोज सकता, लेकिन इस अभियान के जरिये हम महामारी के प्रारंभिक दिनों और उत्पत्ति के बारे में बहुत कुछ जान पाएंगे।

कुछ दिन पहले वैज्ञानिकों की टीम ने इस बात को सिरे से खारिज कर दिया था कि कोरोना वायरस लैब में बनाया गया है।

174 केसों में से आधे मामले सी फूड मार्केट, हुन्नान के

इधर चीन ने वैज्ञानिकों के जांच दल को उन 174 मरीजों का डाटा देने से इन्कार कर दिया है, जिन्हें वुहान में दिसंबर 2019 में कोरोना के प्रारंभिक लक्षण मिले थे। वुहान से वीडियो कॉल पर टीम के एक वैज्ञानिक डोमिनिक डायर ने बताया कि महामारी की उत्पत्ति के बारे में इन प्रारंभिक डाटा का विश्लेषण करना बहुत ही जरूरी है। यह इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि इन 174 केसों में से आधे मामले सी फूड मार्केट, हुन्नान के हैं। इसीलिए हमारा जोर इन आंकड़ों को देने पर है। ऐसा क्यों नहीं हो पा रहा है, हमें नहीं मालूम। फिर ये राजनीतिक है या फिर उनको दिया जाना मुश्किल है, कुछ नहीं कह सकते।