सिंगापुर ने एशिया में सबसे पहले मॉडर्ना की COVID-19 वैक्सीन को दी मंजूरी

 

सिंगापुर ने एशिया में सबसे पहले मॉडर्ना की COVID-19 वैक्सीन को दी मंजूरी

मॉडर्ना का टीका जिसे फाइजर की तुलना में अधिक आसानी से रखा जा सकता है और इधर से उधर ले जाने में सहायक को यूरोप संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा में मंजूरी मिल चुकी है। सिंगापुर में टीके मुफ्त हैं।

सिंगापुर, रायटर। मॉडर्ना की COVID-19 वैक्सीन को मंजूरी देने वाला सिंगापुर एशिया का पहला देश बन गया है। सिंगापुर ने अपनी व्यापक आबादी के लिए टीकाकरण कार्यक्रम को शुरू किया है। देश को मार्च के आसपास मॉडर्ना के टीकों की पहली खेप मिलने की उम्मीद है। यह टीके देश दिसंबर में स्वीकृत फाइजर-बायोनेट टेक वैक्सीन के अपने स्टॉक में लेकर आगे बढ़ेगा और टीकाकरण अभियान को मजबूती देगा। 

अधिकारियों ने कहा कि 175,000 से अधिक लोगों ने, जिसमें स्वास्थ्य से जु़ड़े और एयरलाइन कर्मचारी भी शामिल, COVID-19 वैक्सीन की अपनी पहली खुराक प्राप्त की है, जबकि टीकाकरण केंद्र हाल के हफ्तों में स्थापित किए गए हैं। सिंगापुर को उम्मीद है कि वह तीसरी तिमाही तक अपनी पूरी आबादी का टीकाकरण करवा लेगा। हालांकि पिछले महीने सरकार ने कहा कि उसे फाइजर के मैन्युफैक्चरिंग प्लांट में अपग्रेड होने के कारण फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन की शिपमेंट देरी की उम्मीद थी।

सिंगापुर ने उन्नत खरीद समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं और सिनोवैक सहित अन्य वैक्सीन उम्मीदवारों से बात करते हुए कुछ रुपये भी पहुंचा दिए हैं। बता दें कि मॉडर्ना का टीका, जिसे फाइजर की तुलना में अधिक आसानी से रखा जा सकता है और इधर से उधर ले जाने में सहायक, को यूरोप, संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा में मंजूरी मिल चुकी है। सिंगापुर में टीके मुफ्त हैं।