पश्चिमी विक्षोभ के चलते देश के कई राज्यों में बारिश और ओले गिरने के आसार, IMD ने जारी किया अलर्ट

 

कई राज्यों में गरज के साथ बारिश और पहाड़ी इलाकों में होगी बर्फबारी
 भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department IMD) ने विषम मौसम स्थितियों के कारण आज जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए अलर्ट जारी किया है। आइएमडी के अनुसार आने वाले दिनों में जम्मू- कश्मीर और लद्दाख में गरज के साथ बारिश और बर्फबारी होने की संभावना जताई गई है।

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में लोगों को ठंड से राहत मिली हुई है। दिन में तेज धूप निकलने से लोग गर्मी के दिनों को अभी से महसूस कर रहे हैं और तापमान में आई अचानक बढ़ोत्तरी से दिल्लीवासी हैरान और परेशान भी हैं। राजधानी दिल्ली की एयर क्वालिटी सोमवार सुबह 'खतरनाक' श्रेणी में पहुंच गई। यहां कहीं-कहीं हल्का कोहरा भी देखा गया। राजधानी में सुबह 15 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया और अधिकतम तापमान 28 डिग्री रहने का अनुमान है। वहीं, दूसरी और हिमालयी क्षेत्र से आए पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbances) के चलते देश के कई राज्यों में गरज के साथ बारिश और पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी की संभावना जताई गई है।

उत्तराखंड के कई हिस्सों में भी 23 से 24 फरवरी को बारिश होने का अनुमान है। पश्चिमी विक्षोभ के चलते 26 फरवरी से बारिश और बर्फबारी होने की आशंका है और 26-28 फरवरी को गरज के साथ बारिश हो सकती है। 

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए जारी हुआ अलर्ट

भारतीय मौसम विभाग ने विषम मौसम स्थितियों के कारण आज जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए अलर्ट जारी किया है। आइएमडी के अनुसार आने वाले दिनों में जम्मू- कश्मीर और लद्दाख में गरज के साथ बारिश और बर्फबारी होने की संभावना है। इसके साथ ही पश्चिमी विक्षोभ के चलते मंगलवार से शुक्रवार तक हिमाचल प्रदेश में भीषण बर्फबारी और गरज के साथ छिटपुट बारिश का अलर्ट जारी हुआ है।

दक्षिण भारत के कई हिस्सों में ओले गिरने के आसार

बंगाल की खाड़ी से आने वाली तेज हवाओं के कारण दक्षिण भारत के कुछ हिस्सों में ओले गिरने के आसार हैं। सोमवार और मंगलवार को दक्षिण भारत के कई राज्यों में गरज के साथ बारिश होने की भी उम्मीद है। आइएमडी के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान आंध्र प्रदेश, यनम, कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल और माहे के अलग-अलग हिस्सों के छिटपुट स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।इसी बीच मंगलवार को पूर्वोत्तर भारत में एक चक्रवाती सर्कुलेशन बनने की उम्मीद है, जिसके चलते पूर्वोत्तर भारत के कई राज्यों के अलग-अलग हिस्सों में गरज के साथ बारिश होने की उम्मीद है।