दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में यूपी STF की छापेमारी, PFI से जुड़ा है मामला

 

यूपी पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (STF ) छापेमारी कर रही है।

दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में स्थित अल्मा शिबली नोमानी रोड पर स्थित एक आरोपी के आवास पर ये छापेमारी चल रही है। जानकारी के अनुसार यूपी में पिछले कुछ दिनों पहले ही केरल मूल के रहने वाले दो PFI से संबंधित लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

नई दिल्ली, संवाददाता। दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से जुड़े मामले में यूपी पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (STF ) छापेमारी कर रही है। शाहीन बाग इलाके में स्थित अल्मा शिबली नोमानी रोड पर स्थित एक आरोपी के आवास पर ये छापेमारी चल रही है। जानकारी के अनुसार, यूपी में पिछले कुछ दिनों पहले ही केरल मूल के रहने वाले दो PFI से संबंधित लोगों को गिरफ्तार किया गया था। सूत्रों के मुताबिक, उसी मामले पर अबतक हुई पूछताछ और तफ्तीश के बाद ये कार्रवाई की जा रही है।

दरअसल, अभी हाल में ही केरल के बदरुद्दीन और फिरोज खान की गिरफ्तार के बाद सुरक्षा एजेंसियों को ऐसी जानकारी मिली थी कि पीएफआइ के निशाने पर हिंदू वादी संगठनों के कई नेता थे। हिंदूवादी संगठनों के नेताओं की हत्या के बाद देश भर में माहौल खराब करने की साजिश रची जा रही थी। पुलिस को आशंका है कि इसके लिए विदेशों से फंडिंग की गई।

शाहीन बाग में है पीएफआइ का दफ्तर

दिल्ली में नागरिकता संसोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान यह बात सामने आयी थी कि शाहीन बाग में जहां पर सीएए के खिलाफ धरना चल रहा था उससे थोड़ी दूर पर ही पीएफआइ का दफ्तर है। जांच में सामने आया था कि वह दफ्तर बंद पड़ा है। 

यूपी में पीएफआइ के 120 से ज्यादा सदस्य हो चुके हैं गिरफ्तार

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में यूपी में कुछ जगहों पर हिंसा हुई थी। इनमें पीएफआइ से जुड़े लोगों के शामिल होने की बात सामने आयी थी। इसके बाद पीएफआइ से जुड़े 120 से ज्यादा लोगों को अब तक गिरफ्तार किया जा चुका है। लखनऊ में 23 दिसंबर 2019 को पीएफआइ के प्रदेश अध्यक्ष वसीम अहमद समेत कई आरोपितों को गिरफ्तार किया गया था।यूपी पुलिस के अनुसार, पीएफआइ देश विरोधी अभियान में शामिल है। दिल्ली से सटे गाजियाबाद, शामली, मुजफ्फरनगर, मेरठ, बिजनौर, लखनऊ, गोंडा, वाराणसी, बहराइच और सीतापुर में पीएफआइ के सक्रिय सदस्य हैं। यूपी में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) प्रतिबंधित संगठन है।