महासचिव से ब्लिंकन ने की फोन पर बात, कहा- महामारी समेत अनेक वैश्विक चुनौतियों से मिलकर निबटेंगे UN-US

 

फोन पर गुटेरस से ब्लिंकन ने की बात

20 जनवरी को अमेरिका में नए राष्ट्रपति के तौर पर जो बाइडन ने शपथ लिया था। इसके बाद उन्होंने अमेरिका के दोबारा पेरिस जलवायु समझौते व विश्व स्वास्थ्य संगठन में शामिल होने की घोषणा की थी। इन सभी मुद्दों पर विदेश मंत्री ने संयुक्त राष्ट्र के महासचिव से चर्चा की।

वाशिंगटन, आइएएनएस। पेरिस जलवायु समझौते  व विश्व स्वास्थ्य संगठन  में अमेरिका के दोबारा शामिल होने के बाद पहली बार  अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस से फोन पर बात की। इस दौरान दोनों के बीच कई मुद्दों पर वार्ता हुई।  गुरुवार को हुए इस बातचीत के बाद ट्वीटर  पर ब्लिंकन ने गुरुवार को कहा, 'महासचिव एंटोनियो गुटेरस के साथ की गई वार्ता अच्छी रही। हमने अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र के बीच तालमेल बना कई वैश्विक चुनौतियों से मिलकर निपटने की बात की। इसमें कोविड-19 से लेकर जलवायु परिवर्तन तक के मामले शामिल हैं। UN बहुआयामी व्यवस्था का नेतृत्व  करता है और इसके पीछे अमेरिका है।' 

इस पूरी वार्ता की जानकारी देते हुए अमेरिका के स्टेट डिपार्टमेंड के प्रवक्ता नेड प्राइस (Ned Price) ने गुरुवार को बताया कि  ब्लिंकन ने विश्व निकाय की उनके अनेकों प्रयासों व जारी काम के  लिए प्रशंसा की साथ ही उन्होंने वैश्विक चुनौतियों से निपटने में उनका सहयोग करने की बात भी कही। नेड प्राइस के अनुसार, ब्लिंकन और गुटेरस ने अन्य मुद्दों पर भी चर्चा की जिसमें सीरियाई संघर्ष व इथियोपिया की समस्या भी शामिल है। 

20 जनवरी को जब से जो बाइडन प्रशासन सत्ता में आई है अमेरिका ने पेरिस जलवायु समझौते में दोबारा शामिल होने का ऐलान किया WHO ने भी यह बताया कि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में दोबारा शामिल होने को भी यह तैयार है। पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस सब से अमेरिका को हटा दिया था। 

बाइडन ने शपथ लेने के तुरंत बाद ही कहा कि अमेरिका फिर से जलवायु परिवर्तन से लड़ने के लिए अंतर्राष्ट्रीय पेरिस जलवायु समझौते में शामिल होगा। बता दें कि पहले भी अमेरिका इसका सदस्‍य था, लेकिन पिछले साल के अंत में राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने इससे बाहर होने की घोषणा कर दी थी।