अयोध्या में 'यात्री निवास' के लिए 10 करोड़ रुपये आवंटित: सीएम बीएस येदियुरप्पा

 

Karnataka Budget: अयोध्या में 'यात्री निवास' के लिए 10 करोड़ रुपये आवंटित: सीएम बीएस येदियुरप्पा

विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश करते हुए मुख्यमंत्री जो वित्त विभाग भी रखते हैं ने कहा कि हमें यूपी सरकार स्थापना के लिए पांच एकड़ भूमि प्रदान करेगी। सीएम ने हर जिले में गोशाला के स्थापना की भी घोषणा की।

बैंगलोर, एएनआइ। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कहा है कि उन्होंने राज्य से उत्तर प्रदेश में जाने वाले तीर्थयात्रियों के लिए ठहरने की सुविधा प्रदान करने के लिए अयोध्या में 'यात्री निवास' के निर्माण के लिए बजट 2021-22 में 10 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। 2020 में, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन के दो दिन बाद, सीएम येदियुरप्पा ने अपने यूपी समकक्ष योगी आदित्यनाथ से कर्नाटक के तीर्थयात्रियों के लिए 'यात्री निवास' का निर्माण करने के लिए मंदिर स्थित शहर में भूमि का एक टुकड़ा देने के लिए कहा था।

मुख्यमंत्री ने पत्र में कहा, 'कर्नाटक सरकार अयोध्या जाने वाले तीर्थयात्रियों के लिए एक 'यात्री निवास' का निर्माण करना चाहती है।' वहीं, 8 मार्च को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश करते हुए, मुख्यमंत्री, जो वित्त विभाग भी रखते हैं, ने कहा कि हमें यूपी सरकार स्थापना के लिए पांच एकड़ भूमि प्रदान करेगी।

बजट को पढ़ते हुए, सीएम ने गायों की हत्या और पशुधन के संरक्षण के लिए राज्य के हर जिले में 'गोशाला' के स्थापना की भी घोषणा की।

वहीं, जनवरी माह में कर्नाटक में कैबिनेट विस्तार को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में बवाल हो गया था। भाजपा के कुछ विधायकों ने इसको लेकर खुली बगावत कर दी थी। भाजपा के विधायक बसनगौड़ा यतनाल ने सीएम येदियुरप्पा पर कैबिनेट विस्तार में पैसे-ब्लैकमेलिंग के आरोप लगाए थे। हालांकि, इस मामले पर खुद मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने सफाई दी थी। उन्होंने कहा था कि मैंने देखा है कि कुछ विधायक आरोप लगा रहे हैं कि उन्हें मंत्री पद नहीं मिला। उन्होंने कहा कि मैंने सीमाओं के बावजूद अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। कुछ लोगों ने आधारहीन आरोप लगाए हैं।