बंगाल में भाजपा ने जूट मिलों के लिए 1500 करोड़ की आर्थिक पैकेज देने का किया वादा

 ब्यूरो, कोलकाताः बंगाल में भाजपा के चुनावी घोषणापत्र में जूट क्षेत्र के लिए 1500 करोड़ रुपये के पैकेज का वादा किया गया है। बंगाल की जूट मिलों में काम करने वाले मुख्य रूप से हिंदी भाषी तीन लाख मजदूरों को पार्टी वोट बैंक के तौर पर देख रही है। जूट क्षेत्र वाले 23 मुख्य जिलों में से 18 से अधिक जिलों के लगभग 35 लाख किसान भी लाभान्वित होते हैं। घोषणापत्र में कहा गया है कि हम जूट उद्योग को 1500 करोड़ रुपये का विशेष पैकेज देकर पुनर्जीवित करेंगे। यह राशि जूट मिलों के वित्तीय पुनरुद्धार, अवसंरचना के आधुनिकीकरण, उत्पादन और विपणन केंद्रों के लिए दी जाएगी।

घोषणापत्र में अनाज और चीनी के लिए अनिवार्य जूट की पैकेजिंग के नियमों से छेड़छाड़ न करने का वादा भी किया गया है। वहीं दूसरी तरफ, तृणमूल कांग्रेस ने विशेष रूप से जूट के किसानों को नहीं बल्कि सभी किसानों को लुभाने वाली योजनाओं का वादा किया है। वहीं भाजपा ने भी सभी किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के बकाया 18 हजार रुपये देने के साथ-साथ हर वर्ष केंद्र से छह और राज्य की ओर से चार हजार यानी कुल दस हजार रुपये प्रतिवर्ष किसानों को देने की बात कही गई है। यही नहीं भूमिहीन किसानों को अलग से चार हजार रुपये देने का भी वादा किया गया है।