बाइडन की बड़ी जीत! कोविड-19 से राहत पहुंचाने वाले 2 खरब डॉलर के बिल पर कांग्रेस की मुहर

 

बाइडन को मिली बड़ी जीत कोरोना महामारी से राहत देने का बिल पास

बाइडन ने कोरोना महामारी से आम लोगों को राहत पहुंचाने वाले बिल के पास होने पर राहत की सांस ली है। ये बिल लगभग 2 खरब डॉलर का है। इसमें बेरोजगार लोगों से लेकर दूसरी इडस्‍ट्री का भी ध्‍यान रखा गया है।

वाशिंगटन (एपी)। अमेरिकी कांग्रेस में वैश्विक महामारी कोविड-19 से राहत देने वाला करीब 2 ट्रिलियन डॉलर का बिल पास कर दिया है। ये राष्‍ट्रपति जो बाइडन के लिए एक बड़ी कामयाबी है। बाइडन समेत डेमोक्रेट्स ने इसको अपनी एक बड़ी जीत बताया है। उनके मुताबिक इस बिल के पास होने के बाद अर्थव्‍यवस्‍था में सुधार और कोविड-19 के खिलाफ चल रही लड़ाई में लोगों को मदद मिल सकेगी। इस बिल पर कांग्रेस में जो वोटिंग हुई उसमें जहां बिल के पक्ष में 220 वोट पड़े वहीं इसके विरोध में 211 वोट पड़े।

रिपब्लिकन इस बिल का विरोध कर रहे थे। अमेरिकी राष्‍ट्रपति बाइडन के सत्‍ता में आने के सात सप्‍ताह पास हुए इस बिल के बाद उन्‍होंने ट्वीट कर कहा कि मदद यहां है। उन्‍होंने कहा कि इस बिल के पास होने के बाद अधिकतर अमेरिकियों को इस वर्ष 1400 डॉलर की सीधी मदद मिल सकेगी। इसके अलावा सितंबर में इसको 300 डॉलर और बढ़ाया जाएगा।

इस बिल के पास होने के साथ ही बाइडन का वो चुनावी वादा भी पूरा हो गया है जोउन्‍होंने अपनी चुनावी सभाओं में किया था। उन्‍होंने कहा था कि लोगों को कोरोना महामारी से पैदा हुई विपरीत परिस्थितियों से निजात दिलाना उनकी सरकार की प्राथमिकता में शामिल होगा। अमेरिका में कोरोना संक्रमण की वजह से अब तक 525,000 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि देश में कुल संक्रमण के 29,862,124 मामले सामने आए हैं।

इस महामारी की वजह से लोगों को आर्थिक और मानसिक नुकसान भी उठाना पड़ा है। अमेरिका में इसकी वजह लाखों लोगों की नौकरी छूट चुकी है और वो सरकारी मदद पर गुजारा करने को मजबूर हैं। नेंसी पेलोसी ने इस बिल के पास होने के बाद कहा कि हाउस आज बड़ा फैसला ले रहा है। इससे लोगों के जीवन को बचाया जा सकेगा। माना जा रहा है कि इस बिल का पारित होना बाइडन की जनता पर पकड़ बनाने के लिए भी काफी जरूरी था। ।

सीनेटर रोजर विकर ने कहा कि बिल में 29 बिलियन का खर्च रेस्‍तरां इंडस्‍ट्री के लिए रखा गया है जो काफी अच्‍छा है। इससे कोविड-19 की वजह से नुकसान हुइ इंडस्‍ट्री को राहत पहुंचाई जा सकती है। साथ ही कोरोना वायरस से बाहर आने में भी इससे मदद मिलेगी विकर ने कहा कि इस बिल में जहां कोरोना महामारी की वजह से बेरोजगार हुए लोगों को राहत देने का प्रावधान है वहीं करोड़ों रुपये कोविड-19 वैक्‍सीन और इसके इलाज पर, स्‍कूलों पर, स्‍थानीय प्रशासन द्वारा इडस्‍ट्री को उभारने पर भी खर्च किए जाएंगे।

इसमें किसानों को भी राहत दी जाएगी और इंश्‍योरेंस खरीदने वालों को सब्‍सीडी भी दी जाएगी। साथ ही इसका दायरा भी बढ़ाया जाएगा। हाउस बजट कमेटी के चेयरमेन जॉन यारमुथ ने कहा कि गरीब लोगों की मदद ही नहीं बल्कि उनकी संख्‍या में कमी लाना इसका मकसद है। इस संख्‍या को 44 मिलियन से घटाकर 28 मिलियन तक लाना है। वहीं बच्‍चों की बात करें तों गरीब बच्‍चों की आर्थिक हालत में सुधार कर उनकी संख्‍या भी आधी करनी है।