रोहित शर्मा के साथ इन्हें करनी चाहिए टी20 वर्ल्ड कप 2021 में ओपनिंग, विराट कोहली को नहीं'

 

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (एपी फोटो)

टीम इंडिया के पूर्व सेलेक्टर का मानना है कि टी20 वर्ल्ड कप के लिए रोहित शर्मा के साथ विराट को कोहली को ओपनिंग नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सिर्फ एक मैच के आधार पर आकलन करना जल्दबाजी होगी।

नई दिल्ली, प्रेट्र। आपको याद होगा कि, भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में खेले गए पांच मैचों की टी20 सीरीज के आखिरी मैच में रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग की थी और दोनों के बीच काफी अच्छी साझेदारी भी हुई थी। इस मैच में टीम इंडिया को जीत मिली थी और भारत ने टी20 सीरीज में 3-2 से जीत दर्ज की थी। इस मैच के बाद विराट कोहली ने इच्छा जाहिर की थी कि वो टी20 में ओपनिंग करने की इच्छा रखते हैं और वो आइपीएल में अपनी टीम के लिए ओपनिंग करेंगे। इसके बाद कहा जाना लगा कि, विराट शायद टी20 वर्ल्ड कप में भारत के लिए ओपनिंग करेंगे।

हालांकि बाद में रोहित शर्मा ने कहा था कि, विराट टी20 में ओपनिंग करेंगे या नहीं इस पर टीम मैनेजमेंट ही फैसला करेगी और जो टीम के हित में होगा वही किया जाएगा। अब भारतीय टीम के पूर्व चयनकर्ता शरणदीप सिंह का मानना है कि, टी20 वर्ल्ड कप में भारत को अनुभवी शिखर धवन और रोहित शर्मा से ही ओपनिंग करवानी चाहिए। इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में धवन को एक मैच से बाद फिर मौका नहीं मिला।

शरणदीप सिंह ने पीटीआइ से बात करते हुए कहा कि, ये फैसला हैरान करने वाला था क्योंकि धवन ने आइपीएल और फिर ऑस्टेलिया में अच्छा प्रदर्शन किया था। वो मानसिक तौर पर काफी मजबूत हैं। हो सकता है टीम इंडिया कुछ और विकल्प आजमाना चाहती हो, लेकिन रोहित और धवन यानी लेफ्ट-राइट की ये जोड़ी भारत के लिए टी20 वर्ल्ड कप में बेस्ट ओपनिंग जोड़ी होगी। 

शरणदीप ने कहा कि, सिर्फ एक मैच के आधार पर हम आकलन नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि, टी20 वर्ल्ड कप का टीम चुनने में आइपीएल की अहम भूमिका रहेगी। भारतीय टीम में जगह बनाना आसान नहीं है और ईशान किशन को भी टीम में अपनी जगह बनाने के लिए अच्छा प्रदर्शन करना होगा। इसके अलावा शरणदीप ने क्रुणाल पांड्या के बारे में कहा कि, वो टी20 के अच्छे खिलाड़ी हैं, लेकिन वनडे में वो 10 ओवर गेंदबाजी नहीं कर सकते। वनडे में अगर हार्दिक पांड्या गेंदबाजी नहीं करते हैं तो क्रुणाल पांड्या पांचवें गेंदबाज नहीं बन सकते और उनमें ऐसी क्षमता नहीं है। उन्होंने वनडे सीरीज में अच्छी बल्लेबाजी की, लेकिन वो दस ओवर नहीं फेंक सकते हैं।

उन्होंने कहा कि टीम में अलग-अलग कप्तानों की जरूरत तब पड़ती है जबकि आपका कप्तान अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहा हो लेकिन विराट कोहली एकमात्र खिलाड़ी है जिसका सभी फॉर्मेट में औसत 50 से ऊपर है। अगर वो किसी एक प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तो उस खास स्थिति में आप उनकी कप्तानी का भार कम कर सकते हैं। वैसे कई पूर्व क्रिकेटर कह चुके हैं कि, विराट कोहली की कप्तानी के भार को कम करने के लिए टी20 का कप्तान रोहित शर्मा को बना देना चाहिए।