देश में अब तक लग चुकी वैक्सीन की 3.64 करोड़ से अधिक खुराकें : स्वास्थ्य मंत्रालय

 

3.64 करोड़ों से कोविड वैक्सीन की खुराक

देश में कोविड-19 वैक्सीन की शुरुआत 16 जनवरी से हुई और अब तक वैक्सीन की 3.64 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है। यह आंकड़ा बुधवार शाम 7 बजे तक का है जो केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) की ओर से जारी हुआ।

नई दिल्ली, प्रेट्र। देश में कोविड-19 वैक्सीन की शुरुआत 16 जनवरी से हुई और बुधवार शाम 7 बजे तक कुल 3.64 करोड़ से अधिक वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है। यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से दी गई। मंत्रालय के अनुसार, अब तक कुल कोविड-19 वैक्सीन की 3,64,67,744 खुराक दी जा चुकी है। इसमें 75,47,958 हेल्थकेयर वर्करों  को वैक्सीन की पहली खुराक मिली है वहीं 4608397 HCWs को दूसरी खुराक दी गई। साथ ही 76,63,647 फ्रंटलाइन वर्करों को वैक्सीन की पहली खुराक और 17,86,812 FLWs को दूसरी खुराक भी मिल चुकी है।

 16 जनवरी से हुई वैक्सीनेशन की शुरुआत

देश भर में वैक्सीनेशन ड्राइव की शुरुआत 16 जनवरी से शुरू हुई जिसमें हेल्थकेयर वर्करों (HCWs) को वैक्सीन की खुराक दी गई और 2 फरवरी से फ्रंटलाइन वर्करों  (FLWs) को वैक्सीन देने की शुरुआत की गई।  वैक्सीनेशन का अगला चरण 1 मार्च से शुरू हुआ था। इस चरण में उन लोगों को वैक्सीन की खुराक जिनकी उम्र 60 साल से अधिक है और 45 साल के लोगों को जिन्हें अन्य स्वास्थ्य समस्याएं हैं। वैक्सीन की बर्बादी पर नाराज हुए प्रधानमंत्री

इस बीच इंटरनेट मीडिया लोकल सर्कल ने वैक्सीनेशन के मुद्दे पर एक सर्वे किया। 75 फीसद लोगों ने कहा कि यदि वैक्सीन अधिक मात्रा में उपलब्ध हो व बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन की व्यवस्था संभव हो तो 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को टीके लगाए जाएं। बता दें कि बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की। प्रधानमंत्री ने कहा, कोरोना की दूसरी लहर को तुरंत रोकना होगा। उन्होंने वैक्सीन की बर्बादी पर भी नाराजगी जाहिर की।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में कोरोना संक्रमण के अब तक कुल 1 करोड़ 14 लाख 74 हजार 605 मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि, इसमें से 1 करोड़ 10 लाख 63 हजार 25 लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। वहीं देश में कोरोना के एक्टिव केस बढ़कर 2 लाख 52 हजार 364 हो गए हैं। भारत में कोरोना से अब तक कुल 1 लाख 59 हजार 216 लोगों की मौत हो चुकी है।