ट्रेन में सफर के लिए Aadhar दिखाना जरूरी, इसके बिना स्टेशन में नहीं मिलेगी एंट्री

 

पंजाब में अब आरक्षित टिकट होने पर भी रेलवे स्टेशन पर आधार कार्ड दिखाना जरूरी होगा।

 पंजाब में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले देखते हुए रेलवे ने टिकट के साथ पहचान पत्र दिखाना जरूरी कर दिया है। यानी रेलवे स्टेशन जाएं तो अपना आधार कार्ड साथ ले जाना मत भूलें। इसके बिना स्टेशन के अंदर प्रवेश नहीं मिलेगा।

लुधियाना । अगर आप ट्रेन से सफर करने के लिए रेलवे स्टेशन को निकल रहे हैं तो रेलवे की गाइडलाइंस ध्यान में रखें। अगर ऐसा नहीं किया तो स्टेशन पर पहुंचकर बड़ी मुश्किल में फंस सकते हैं। आपकी ट्रेन छूट सकती है। पंजाब में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले देखते हुए रेलवे ने टिकट के साथ पहचान पत्र दिखाना जरूरी कर दिया है। यानी रेलवे स्टेशन जाएं तो अपना आधार कार्ड साथ ले जाना न भूलें। आधार कार्ड के बिना स्टेशन में प्रवेश नहीं मिलेगा।

ट्रेन की टाइमिंग से 2 घंटे पहले स्टेशन पहुंचें

अगर आपने पहले से आरक्षित टिकट ले रखा है तो भी आप ट्रेन के समय से 2 घंटा पहले रेलवे स्टेशन पहुंचें। स्टेशन पहुंचने के बाद आपको चेकिंग लाइन में लगना पड़ेगा। यहां रेलवे अधिकारी आपका रेलवे रिजर्वेशन टिकट और पहचान पत्र देखेंगे। मास्क लगाना अनिवार्य है। सैनिटाइजर व्यवस्था के साथ आपके शरीर का तापमान चेक किया जाएगा। इसके बाद यात्री को विश्राम गृह भेज दिया जाएगा। यहां बैठकर आप को ट्रेन आने की प्रतीक्षा करनी होगी। ट्रेन आने के बाद आपको बोगी में सवार होने के लिए भी कतार में लगकर आगे बढ़ना होगा। इस दौरान अन्य यात्रियों से शरीरिक दूरी बनाए रखनी होगी। ट्रेन की बोगी में भी आप अपनी सीट नंबर पर बैठेंगे और बेवजह किसी यात्री से बातचीत नहीं करेंगे। सफर के दौरान ना तो किसी का सामान छूना है और ना ही किसी का दिया हुआ कुछ खाना पीना है।

रविवार को लुधियाना स्टेशन पर यात्रियों के शरीर का तापमान जांचते हुए रेलवे कर्मचारी। 

सख्ती से होगा कोविड-19 गाइडलाइंस का पालनः स्टेशन सुपरिंटेंडेंट

स्टेशन अधीक्षक अशोक सिंह सलारिया ने कहा कि पंजाब में कोविड-19 का प्रकोप ज्यादा फैल चुका है। इस कारण सरकार ने कोविड-19 पर काबू पाने के लिए नियम और शर्तों का पालन जरूरी कर दिया है। रेलवे ने भी सभी नियमों का पालन करवाना अनिवार्य कर दिया है। उन्होंने कहा कि लुधियाना रेलवे स्टेशन पर कोविड-19 का चेकअप सख्ती से हो रहा है। यात्रियों को सुरक्षित रखने के लिए सभी प्रबंध किए जा रहे हैं। सलारिया ने कहा कि 10 अप्रैल से ट्रेनों के परिचालन में बढ़ोतरी हो रही है। इस कारण कोविड-19 नियमों का पालन और सख्ती से होना जरूरी है।