पाकिस्‍तान में बेकाबू हुआ कोरोना वायरस, पीएम इमरान और राष्ट्रपति के बाद रक्षा मंत्री भी पॉजिटिव

 

पाकिस्‍तान में बेकाबू हुआ कोरोना वायरस, पीएम इमरान के बाद राष्ट्रपति और रक्षा मंत्री भी पॉजिटिव। स्रोत-एजेंसी।

पाक में कोरोना महामारी से हालत खराब है। प्रधानमंत्री इमरान खान और उनकी पत्नी के संक्रमित होने के बाद अब 71 वर्षीय राष्ट्रपति डा. आरिफ अल्वी और रक्षा मंत्री परवेज खटक भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। पूर्व वित्त मंत्री हफीज शेख भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं।

इस्लामाबाद, एजेंसियां। पाक में कोरोना महामारी से हालत खराब है। प्रधानमंत्री इमरान खान और उनकी पत्नी के संक्रमित होने के बाद अब 71 वर्षीय राष्ट्रपति डा. आरिफ अल्वी और रक्षा मंत्री परवेज खटक भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। पूर्व वित्त मंत्री हफीज शेख भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं। अपने संक्रमित होने की जानकारी राष्ट्रपति ने खुद ट्वीट करके दी है। उनकी पत्नी समीना अल्वी का टेस्ट निगेटिव आया है, उन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया है। गौरतलब है कि राष्ट्रपति और उनकी पत्नी दोनों ने ही वैक्सीन का पहला डोज ले लिया था। अगले सप्ताह उन्हें दूसरा डोज लेना है। पाक प्रधानमंत्री इमरान खान 20 मार्च को कोरोना संक्रमित हो गए थे। उनकी पत्नी बुशरा बीबी का टेस्ट भी पॉजिटिव आया है। इसके साथ ही पाकिस्तान के पूर्व वित्त मंत्री हफीज शेख भी पॉजिटिव हो गए हैं। पाकिस्तान में एक दिन में चार हजार से ज्यादा नए मरीज सामने आ रहे हैं।

वैक्सीन लगवाने में मंत्री का परिवारवाद 

पाक के आवास मंत्री तारिक बशीर चीमा अपने परिवार को नियमों का उल्लंघन कर वैक्सीन लगवाने के मामले में घिर गए हैं। उनके परिवार को वैक्सीन लगाने का वीडियो वायरल होने के बाद जनता ने प्रदर्शन भी किया।

अमेरिका के नब्बे फीसद वयस्क 19 अप्रैल से वैक्सीन पाने योग्य

राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा है कि देश के नब्बे फीसद वयस्क 19 अप्रैल से वैक्सीन लगवाने योग्य हो जाएंगे। जो दस फीसद बचेंगे, उनको भी 1 मई के बाद वैक्सीन लगाई जा सकेगी। बाइडन ने सभी राज्यों से मास्क अनिवार्य करने की अपील की है। साथ ही व्यापार में भी लोगों से मास्क पहने रहना जरूरी बताया है।

ब्रिटेन सभी वयस्कों को देने बाद वैक्सीन अन्य देशों को भेजेगा

कोरोना महामारी के प्रसार के बीच ब्रिटेन के वाणिज्य मंत्री ने कहा है कि देश के सभी वयस्कों को वैक्सीन का डोज देने की उनकी पहली प्राथमिकता है। उसके बाद अतिरिक्त वैक्सीन होने के बाद अपने आयरलैंड जैसे पड़ोसी देशों को वैक्सीन भेजी जाएगी।