बाघापुराना में बोले अरविंद केजरीवाल- किसान आंदोलन सिर्फ पंजाब नहीं पूरे देश का
बाघापुराना में आम आदमी पार्टी की रैली को संबोधित करते अरविंद केजरीवाल। (जागरण)

मोगा के बाघापुराना में आम आदमी पार्टी में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि किसान आंदोलन सिर्फ पंजाब नहीं पूरे देश का आंदोलन है। आप पूरी तरह से किसानों के साथ खड़ी है और आगे भी उनके साथ रहेगी।

मोगा,मोगा के बाघापुराना में आम आदमी पार्टी की रैली शुरू हो गई है। रैली में आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि किसान आंदोलन सिर्फ पंजाब नहीं पूरे देश का आंदोलन है। आम आदमी पार्टी पूरी तरह किसानों के साथ है और आगे भी रहेगी।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पंजाब वीराें की धरती है। देश में अगर किसी के साथ अन्याय हाेता है ताे पंजाबी ही सबसे पहले आवाज उठाते हैं। किसान आंदाेलन पूरे देश का आंदाेलन है। यह केवल एक राज्य का आंदाेलन नहीं है। सूरत में आम आदमी पार्टी ने नगर निकाय चुनाव में पहली बार 27 सीटें जीतकर भाजपा काे हराया है।

बाघापुराना रैली में लोगों का अभिवादन स्‍वीकार करते अरविंद केजरीवाल और अन्‍य आप नेता। 

अरविंद केजरीवाल ने किसान महासम्मेलन नाम से आयोजित रैली से विधानसभा चुनाव 2022 के लिए आप की मुहिम का शंखनाद किया। उन्होंने रैली के मंच से 'नया पंजाब, खुशहाल पंजाब' का नारा भी दिया। उन्‍होंने पंजाब के किसानों को भरोसा दिया कि जब तक वह दिल्ली में मुख्यमंत्री के रूप में मौजूद हैं, वहां आंदोलन कर रहे किसानों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं आने दी जाएगी।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि तीन कृषि सुधार कानूनों के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ रहे पंजाब के किसानों को मेरा सैल्यूट है। इसकी के साथ ही उन्‍होंने जमकर चुनावी वादे भी किए। उन्होंने भरोसा दिया कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विधानसभा चुनाव 2017 से पहले कुछ कार्ड बांटे थे। इसमें ' घर-घर नौकरी, स्मार्ट मोबाइल' देने का वादा किया गया था। उन्होंने पंजाब के नौजवानों से कहा कि वे उस कार्ड को संभाल कर रखें। कैप्टन अमरिंदर सिंह का वादा भले ही झूठा रहा हो, लेकिन आम आदमी पार्टी   की सरकार जब पंजाब में बनेगी तो उस कार्ड धारक  नौजवानों को आप की सरकार नौकरी देगी।

उन्होंने दिल्ली में मुफ्त बिजली देने के नाम पर खूब तालियां बजवाई। उन्होने कहा दिल्ली की 73 प्रतिशत  आबादी को पूरी तरह निशुल्क  बिजली दी जा रही है। उन्होंने कहा यह चमत्कार है। चुनाव में वादा किया था तब लोग विश्वास नहीं कर पा रहे थे, लेकिन इस चुनावी वादे को उन्होंने पूरा किया। पंजाब में जब आम आदमी पार्टी की सरकार बनेगी तो यहां भी इस वादे को पूरा करेंगे।

केजरीवाल ने कहा कि पंजाब के लोगों को आम आदमी पार्टी की सरकार पूरी तरह से निशुल्क बिजली देगी। पंजाब के सरकारी स्कूलों को बेहतर किया जाएगा ताकि गरीब से गरीब परिवार के बच्चे अच्छी शिक्षा, अच्छे माहौल में हासिल करें। यहां के अस्पतालों का दिल्ली की तर्ज पर विकसित किया जाएगा ताकि गंभीर से गंभीर बीमारी का इलाज लोग करा सकें।

केजरीवाल ने कहा कि एक साल बाकी है अगर यहां के लोग चाहते हैं कि दिल्ली की तर्ज पर विकास हो, सबको बेहतर शिक्षा मिले। अच्छे अस्पताल हों। इस एक साल में आम आदमी पार्टी को घर-घर तक हर नौजवान पहुंचाएंए क्योंकि तभी एक नए पंजाब का सृजन होगा। खुशहाल पंजाब का सृजन होगा, जहां हर किसान और मजदूर, हर महिला, हर बच्चा और नौजवान खुशहाली की जिंदगी जिएगा।

दूसरी ओर, रैली स्‍थल पर लोगों के बीच शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो रहा है। काफी संख्‍या में लोगों ने मास्‍क भी नहीं लगा रखा है। मंच पर अरविंद केजरीवाल के साथ आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई के प्रधान भगवंत मान और अन्‍य नेता भी मौजूद हैं।

इससे पहले रैली में शा‍मिल हाेने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अमृतसर एयरपोर्ट पहुंचे। इस दाैरान केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी (AAP) किसान आंदोलन के समर्थन में है। वह यहां से सड़क मार्ग से सीधे बाघापुराना रैली स्थल के लिए रवाना हुए।

सुबह ही रैली स्‍थल पर तैयारियां पूरी हो गई थी और सुबह से ही आप कार्यकर्ता पहुंच रहे थे। पंजाब में कोराेना संक्रमण के कारण केजरीवाल की यह रैली काफी चर्चा में है। कांग्रेस की तरफ से 31 मार्च तक कोई रैली व सभा करने पर रोक के बाद आम आदमी पार्टी पर भी इसके लिए दबाव था।

रैली के लिए बाघापुराना की नई दाना मंडी में 80, 000 लोगों की क्षमता का विशाल पंडाल तैयार किया गया। हालांकि कोरोना संक्रमण के बीच रैली में शारीरिक दूरी नियम का पालन सबसे बड़ी चुनौती रही और इसका पालन होता नहीं दिखा। लोग काफी संख्‍या में बिना मास्‍क लगाए नजर आए। बता दें कि प्रशासन ने शर्त रखी थी कि केजरीवाल सहित सभी वीआइपी व वीवीआइपी 48 घंटे पहले की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट दिखाकर ही मुख्य मंच पर जा सकते हैं।

आप ने मंगवाए 80 हजार मास्क, बांटने को लेकर रूपरेखा नहीं

कोरोना को लेकर एहतियात के तौर पर आम आदमी पार्टी ने रैली स्थल को बैरिकेडिंग कर कवर किया था। प्रवेश के लिए 12 गेट बनाए थे। पार्टी की तरफ से 80 हजार मास्क मंगवाए गए। हालांकि इतनी बड़ी संख्या में मास्क कौन बांटेगा, इसकी कोई रूपरेखा  तैयार नहीं की गई।

केजरीवाल, भगवंत मान सहित 20 लोगों के लिए मंच पर बैठने की व्यवस्था

दिल्ली से आकर मुख्य पंडाल की तैयारियों का जिम्मा संभालने वाले पार्टी नेता विपिन उपाध्याय ने लोगों से अपील की थी कि रैली में आने वाले सभी लोग मास्क लगाकर पहुंचें। जरूरत पड़ने पर और मास्क मंगवाए गए। रैली स्थल के मुख्य मंच पर 20 कुर्सियां लगाई गई, जिन पर अरविंद केजरीवाल व सांसद भगवंत मान सहित 20 लोग बैठे।