रामगढ़ के ओम प्रकाश ने चांद पर जाने को कराया रजिस्ट्रेशन, चंद्रमा की मुफ्त यात्रा के लिए ये है शर्त

 

Registration to go to Moon, Jharkhand Ramgarh News कुल आठ लोग मिशन मून के लिए चुने जाएंगे।

 ओम प्रकाश रामगढ़ नगर परिषद क्षेत्र के मुर्राम कला गांव के रहने वाले हैं। 21 मार्च तक प्रारंभिक स्क्रीनिंग के बाद कई जांच से गुजरना बाकी है। यह यात्रा मुफ्त होगी। कुल आठ लोग मिशन मून के लिए चुने जाएंगे।

रामगढ़,  झारखंड के रामगढ़ नगर परिषद क्षेत्र के मुर्राम कला निवासी समाजसेवी ओम प्रकाश महतो ने चांद पर जाने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया है। इसका नंबर आइएन- 0066891-00331473 है। ओम प्रकाश महतो ने बताया कि जापान की एक फैशन कंपनी के मालिक युसाकु मीजावा ने लोगों को अपने साथ चांद की यात्रा के लिए आवेदन आमंत्रित किया था। इसके लिए उन्होंने इंटरनेट मीडिया पर एक लिंक साझा किया था।

इसमें आवेदन की तमाम जानकारियां दी गई हैं। 14 मार्च तक रजिस्ट्रेशन कराना था। 21 मार्च तक प्रारंभिक स्क्रीनिंग होगी। इसके बाद एक असाइनमेंट दिया जाएगा। फिर ऑनलाइन इंटरव्यू होगा। इसके बाद फाइनल इंटरव्यू और मेडिकल जांच होगी। इस प्रक्रिया को अगर पार कर लिया तो चांद पर जाने का टिकट मिल जाएगा। यह यात्रा मुफ्त होगी। कुल आठ लोग मिशन मून के लिए चुने जाएंगे। चंद्रमा का चक्कर लगाने की यह यात्रा छह दिनों में पूरी होगी।

युसाकु मीजावा ने तीन लाख 84 हजार 400 किलोमीटर दूर चंद्रमा की यात्रा मुफ्त कराने के लिए एक शर्त रखी है। शर्त यह है कि जिन लोगों को साथ लेकर जाएंगे, उन्हें पृथ्वी पर वापस लौटने के बाद लोगों की मदद करनी होगी। समाज को नई दिशा देने के लिए रचनात्मक प्रयोग करने होंगे। यही वजह है कि उन्होंने दुनिया के अलग-अलग हिस्सों से लोगों को साथ ले जाने के लिए आमंत्रित किया है।

उनका मानना है कि जब ये लोग मिशन से वापस लौटेंगे तो इनके अनुभव और रचनात्मकता से दुनिया को लाभ होगा। युसाकु मीजावा ने मिशन के लिए एलोन मस्क के स्पेसएक्स द्वारा विकसित रॉकेट स्टारशिप की सभी सीटें आरक्षित कर ली है। अनुमान है कि मिशन पर पांच बिलियन डॉलर यानी 35 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे। युसाकु मीजावा ने इस मिशन को डियर मून नाम दिया है।