गैंगस्टर रामकरण बैंयापुर के घर में मिला हथियारों का जखीरा, बदमाश अजय उर्फ बिट्टू हमला मामले में कार्रवाई

 

अवैध शस्त्र अधिनियम में एक अन्य मुकदमा दर्ज किया है।

पुलिस ने रामकरण के घर के अंदर से भारी मात्रा में हथियार बरामद किए है। अंदेशा जताया जा रहा है कि गैंग कोई बड़ी वारदात करने की फिराक में था। पुलिस टीम बृहस्पतिवार देर शाम से ही रामकरण के घर के बाहर डेरा डाले थी।

सोनीपत। सदर थानाक्षेऋ के गांव बैंयापुर में गैंगस्टर रामकरण के बंद घर की तलाशी में पुलिस ने अवैध हथियारों का जखीरा बरामद किया है। पुलिस ने आरोपित के घर से राइफल, टूटा रिवाल्वर व 606 कारतूस बरामद किए हैं। पुलिस ने रामकरण को कोर्ट परिसर में बदमाश अजय उर्फ बिट्टू पर हुए जानलेवा हमला करने के मामले में षड्यंत्र रचने का आरोपित पाया है। घटना के बाद से रामकरण फरार है। सदर थाना पुलिस ने सिटी थाना प्रभारी के बयान पर रामकरण के खिलाफ अवैध शस्त्र अधिनियम में एक अन्य मुकदमा दर्ज किया है।

सिटी थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने सदर थाना पुलिस को शिकायत दी कि बृहस्पतिवार को रोहतक की सुनारिया जेल से अवैध शस्त्र अधिनियम में पेशी के लिए आए अजय उर्फ बिट्टू बरोणा को कैदी वाहन में रोहतक के सिपाही महेश कुमार ने तीन गोली मार दी थी। जिस पर उसे से मौके से ही गिरफ्तार करने के बाद उसके खिलाफ हत्या के प्रयास व अवैध शस्त्र अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपित ने स्वीकार किया है कि उसने रामकरण बैंयापुर के कहने पर वारदात को अंजाम दिया।

इसके लिए रामकरण ने ही उसे अवैध हथियार व 50 हजार रुपये दिए थे। जिस पर रामकरण को इस मामले में षड्यंत्र रचने का आरोपित बनाया गया है। पुलिस ने उसके घर की तलाशी लेने के लिए सीजेएम सौरभ गुप्ता की कोर्ट से सर्च वारंट लिया और तहसीलदार मनोज अहलावत को ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया। पुलिस ने रामकरण के घर की तलाशी के दौरान 315 बोर के 140 कारतूस, 12 बोर के 91 कारतूस, 32 बोर के 320 कारतूस, 7.62 बोर के 10 कारतूस, 9एमएम के दो कारतूस, 5.56 बोर के 3 कारतूस, एफएमजी के 40 कारतूस, एक खोल, टूटा रिवाल्वर, तीन खाली मैगजीन, एक राइफल 315 बोर बरामद हुई। एसएचओ देवेंद्र के बयान पर सदर थाना पुलिस ने अवैध शस्त्र अधिनियम में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

दीवार फांदकर अंदर गई पुलिस

पुलिस के अनुसार सर्च वारंट लेकर जब टीम रामकरण के घर पहुंची तो दरवाजा अंदर से बंद था। काफी प्रयास के बाद भी दरवाजा नहीं खोला गया तो गांव के प्रबुद्ध लोगों को रामकरण के घर बुलाया गया। उनकी मौजूदगी में दीवार पर लगे कांटेदार तार काटकर सीढ़ी द्वारा पुलिस कर्मी को अंदर भेजा गया। उसने अंदर से दरवाजा खोला। उसके बाद मैन गेट का ताला तोडक़र टीम घर के अंदर दाखिल हुई।

जखीरा देखकर लगा बड़ी वारदात की फिराक में था रामकरण गैंग

पुलिस ने रामकरण के घर के अंदर से भारी मात्रा में हथियार बरामद किए है। अंदेशा जताया जा रहा है कि गैंग कोई बड़ी वारदात करने की फिराक में था। पुलिस टीम बृहस्पतिवार देर शाम से ही रामकरण के घर के बाहर डेरा डाले थी। लेकिन दरवाजा बंदर से बंद होने व सर्च वारंट नहीं होने के चलते शुक्रवार को तलाशी हो सकी। जिसके बाद हथियार बरामद हुए। पुलिस का मानना है कि रामकरण पहले ही घर से फरार हो गया था। उसके पास भी काफी हथियार होने का अंदेशा जताया जा रहा है।