धारावाहिक रामायण में भगवान राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल भाजपा में शामिल


अभिनेता अरुण गोविल आज भाजपा में शामिल हो गए (फोटो एएनआई)

धारावाहिक रामायण में भगवान राम की भूमिका निभाकर देश के घर-घर में प्रख्यात हुए अभिनेता अरुण गोविल आज भाजपा में शामिल हो गए हैं। 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले अरुण गोविल का भाजपा में शामिल होना बड़ा अहम माना जा रहा है।

 नई दिल्ली, एएनआई। प्रसिद्ध धारावाहिक 'रामायण' में भगवान राम की भूमिका निभाकर देश के घर-घर में प्रख्यात हुए अभिनेता अरुण गोविल आज भाजपा में शामिल हो गए हैं। 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले अरुण गोविल का भाजपा में शामिल होना बड़ा अहम माना जा रहा है।

बता दें कि पिछले साल लॉकडाउन लागू होने के बाद केंद्र सरकार ने दूरदर्शन पर रामायण सीरियल का फिर से प्रसारण शुरू किया था। लॉकडाउन में लोगों ने इसे खूब पसंद भी किया था। गोविल ने अभी तक किसी राजनीतिक दल से जुड़ने से बचते रहे थे।

गौरतलब है कि इससे पहले महाभारत में युधिष्ठिर का किरदार निभाने वाले गजेन्द्र चौहान भाजपा में शामिल हुए थे। चौहान को एफटीआईआई का अध्यक्ष बनाने को लेकर विवाद हुआ था। बता दें कि कुछ दिन पहले भाजपा में शामिल होने के संकेत अरुण गोविल दे चुके थे। एक सवाल पर गोविल ने कहा था कि हां,मैं भाजपा ज्वाइन करना चाहता हूं। अगर ऑफर मिला तो जरूर ज्वाइन करूंगा।

रामायण की 'सीता' भी भाजपा में

बता दें कि अरुण गोविल पहले रामायण के ऐसे कलाकार नहीं हैं जो राजनीति में उतरे हों। इससे पहले भी रामानंद सागर की रामायण के कलाकार राजनीति में आ चुके हैं। रामायण में ‘सीता’ की भूमिका निभाने वाली दीपिका चिखलिया, ‘हनुमान’ की भूमिका निभाने वाले दारा सिंह और ‘रावण’ की भूमिका निभाने वाले अरविंद त्रिवेदी चुनावी मैदान में भी उतरे। दीपिका जहां भाजपा के टिकट पर बड़ौदा सीट से चुनाव जीतकर लोकसभा में पहुंचीं। तो वहीं, दारा सिंह भी भाजपा के साथ जुड़े और 2003 से 2009 तक राज्यसभा के नामित सदस्य रहे। हालांकि रामायण में राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल की सियासी पारी को लेकर हमेशा चर्चा होती रही, लेकिन वे राजनीति के अखाड़े में अब तक नहीं उतरे थे।